e-प्रहरी पायलट प्रोजेक्ट व गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिला पुलिस फेसबुक पेज का पुलिस अधीक्षक ने किया शुभारंभ

गौरेला (आशुतोष दुबे)। जिला गौरेला-पेंड्रा-मरवाही पुलिस ने सोशल मीडिया की तरफ कदम बढ़ाते हुए गौरेला-पेंड्रा-मरवाही पुलिस नाम के फेसबुक पेज की आज शुरुआत की। पुलिस अधीक्षक सूरज सिंह परिहार ने पहली पोस्ट डालते हुए फेसबुक पेज पर सभी को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए बेहतर पुलिस सेवाओं के लिए जीपीएम पुलिस पेज से जुड़ने का संदेश दिया।

पुलिस अधीक्षक के अनुसार फेसबुक पेज बनाने का उद्देश्य अधिक से अधिक क्षेत्र के लोगों से जुड़ाव और सीधा संवाद स्थापित करना है। आजकल अधिकतर लोग और ख़ासकर युवा सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं। ऐसे में पुलिस का भी इस तरह सोशल मीडिया पर आना पूरक है और साथ ही सोशल मीडिया के माध्यम से आम लोगों का फीडबैक भी लगातार मिलता रहता है।

साथ ही क्षेत्र की जनता अपने आसपास हो रही आपराधिक गतिविधियों की जानकारी फेसबुक पेज के माध्यम से अवगत कराने में सुविधा महसूस करती है। इस तरह से लोगों की परेशानियों को हल करने में आसानी होती है और जनता तक पुलिस पहुँच बेहतर हो जाती है।

E-प्रहरी प्रोजेक्ट का शुभारम्भ

पुलिस अधीक्षक गौपेम द्वारा आज पुलिस कर्मियों के क्षमता निर्माण कार्यक्रम (CBM) के तौर पर e-प्रहरी योजना की शुरुआत की गई। इस योजना का उद्देश्य कम्प्यूटर के क्षेत्र में पुलिस कर्मचारियों की दक्षता बढ़ाना है। ज़िला पुलिस कार्यालय गौपेम में कम्प्यूटर दक्ष कर्मियों की कमी को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है।

यह पायलेट प्रोजेक्ट के तौर पर लाँच किया गया है जिसके परिणामों का अध्ययन करके इसके आगे के स्वरूप का निर्धारण किया जाएगा। शुरू में पुलिस अधीक्षक कार्यालय की विभिन्न शाखाओं से 8 सहायकों के साथ इस प्रोजेक्ट को चालू किया गया है। इसमें उनको MS-Excel, MS-Word, टाइपिंग इत्यादि सिखाया जाएगा। प्रशिक्षण की सुचारू और समुचित मॉनिटरिंग के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय प्रतिभा पांडेय को नोडल नियुक्त किया गया है ।

सभी आठ पुलिस प्रहरियों को पुलिस अधीक्षक के द्वारा ई प्रहरी किट प्रदान करते हुए बधाई एवं शुभकामनाएं दी गई।