Breaking News

जितिन प्रसाद की एंट्री से ब्राह्मण वोटरों में पैठ बढ़ा पाएगी भारतीय जनता पार्टी …

नई दिल्ली (पंकज यादव) । एक समय में ब्राह्मणों का बड़ा वोट हासिल करने वाली बीजेपी इन दिनों इस बिरादरी को लुभाने में जुटी है। खासतौर पर ऐसे दौर में जब भाजपा सरकार सत्तारूढ़ होने के बाद से ही यूपी में ब्राह्मणों की भारी उपेक्षा के आरोप लगते रहे हैं।

ऐसी स्थिति में जितिन प्रसाद को शामिल कर बीजेपी एक बड़ा संदेश देने की कोशिश कर सकती है। यूपी में 2022 में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं और बीजेपी अभी से चुनावी मोड में आ चुकी है। ऐसे में जितिन प्रसाद की एंट्री वोटरों के एक वर्ग को साधने का दांव माना जा रहा है।

जितिन प्रसाद को यूपी में ही कोई अहम जिम्मेदारी दी जा सकती है और वह चुनावों में भी एक चेहरा हो सकते हैं। इस बात का संकेत उनके पार्टी जॉइन करने पर रेल मंत्री पीयूष गोयल के स्वागत भाषण से भी मिलता है। जितिन प्रसाद की जमकर तारीफ करते हुए पीयूष गोयल ने कई बार दोहराया कि वह लंबे समय से यूपी की सेवा करते रहे हैं।

इससे साफ है कि यूपी में चुनावी रणनीति को ध्यान में रखते हुए ही बीजेपी ने उन्हें एंट्री दी है। ‘ब्राह्मण चेतना परिषद’ नाम के संगठन के जरिए काफी समय से जितिन प्रसाद ब्राह्मणों के बीच काम करते रहे हैं। पूरे राज्य में वह इसे लेकर दौरा कर चुके हैं। ऐसे में बीजेपी को समुदाय के बीच उनकी इस पकड़ का लाभ मिल सकता है।

error: Content is protected !!