मध्य प्रदेश

भोपाल रेलवे स्टे शन का खाना पूरी तरह से हाइजिनिक, एफएसएसएआई ने जारी किया प्रमाण पत्र …

भोपाल. आमतौर पर ट्रेन से सफर के दौरान यात्री स्टेतशनों पर मिलने वाले खानपान से बचने की कोशिश करते हैं. उन्हेंस यह भरोसा नहीं होता है कि खाना कितना सुरक्षित है. यात्रियों की इस चिंता को दूर करने और खानपान पर भरोसा करने के लिए रेलवे मंत्रालय लगातार कोशिश कर रहा है. एफएसएसएआई स्टे शनों का सर्वे कर रही है और खानपान की गुणवत्ताश को लेकर रेटिंग दे रही है. इसी दिशा हाल ही में भोपाल स्टेरशन का सर्वे हुआ और स्टेशशन में खानपान उच्च  गुणवत्ताी को देखते हुए 4 स्टाहर ‘ईट राइट स्टेसशन’ का प्रमाण पत्र दिया गया है.

भारतीय रेलवे के भोपाल रेलवे स्टे शन का खाना पूरी तरह से हाइजीनिक और सुरक्षित है. यानी अगर आप ट्रेन से सफर कर रहे हैं और रास्तेट में भोपाल स्टेहशन पड़ता है तो आप निश्चिंत होकर वहां पर खाना खा सकते हैं. एफएसएसएआई स्टेशशनों प्रमाणित करते के लिए सर्वे करता है. सर्वे में कई तरह के मानक तय हैं, इन मानकों पर खरा उतरने पर स्टेमशनों को ‘ईट राइट स्टेचशन’ प्रमाणपत्र दिया जाता है. जो यात्रियों को सुरक्षित और पौष्टिक भोजन प्रदान करने में मानक स्थापित करता है. एफएसएसएआई थर्ड पार्टी आडिट एजेंसी की रिपोर्ट के आधार पर 1 से 5 तक की रेटिंग देता है. भोपाल स्टेथशन को 4-स्टार रेटिंग दिया गया है जिससे स्प ष्ट  है कि यहां पर यात्रियों सुरक्षित और स्वच्छ भोजन दिया जा रहा है.

प्रमाणीकरण ‘ईट राइट इंडिया’ अभियान का हिस्सा है। यह सभी भारतीयों के लिए सुरक्षित, स्वस्थ और टिकाऊ भोजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए देश की खाद्य प्रणाली में बदलाव लाने के लिए एफएसएसएआई द्वारा बड़े पैमाने पर प्रयास है। ईट राइट इंडिया यह सुनिश्चित करने के लिए नियामक, क्षमता निर्माण, सहयोगात्मक और सशक्तिकरण दृष्टिकोणों का एक विवेकपूर्ण मिश्रण अपनाता है कि हमारा भोजन लोगों और पृथ्वी ग्रह, दोनों के लिए उपयुक्त है। इस प्रमाणीकरण वाले अन्य रेलवे स्टेशनों में दिल्ली का आनंद विहार टर्मिनल रेलवे स्टेशन, छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (मुंबई), मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन (मुंबई), वडोदरा रेलवे स्टेशन और चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन शामिल हैं।

Related Articles

Back to top button