नई दिल्ली

पुतिन का जिक्र कर बोले राजनाथ सिंह, ‘भारत दुनिया पर राज नहीं करना चाहता है’; बताई वजह …

नई दिल्ली। राजनाथ सिंह ने सोमवार को एक कार्यक्रम में स्पष्ट करते हुए कहा कि भारत का दुनिया पर राज करने का कोई इरादा नहीं है। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की एक टिप्पणी का जिक्र करते हुए राजनाथ सिंह ने यह बात कही। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बढ़ते प्रभाव को लेकर बोलते हुए रक्षा मंत्री ने कहा, “मुझे कुछ समय पहले पुतिन की कही एक बात याद आ रही है। आप सभी जानते हैं कि रूस तकनीकी रूप से एक एडवांस देश है। साइंस और टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में रूस धीरे-धीरे आगे बढ़ा है। एक बार आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को लेकर पुतिन ने कहा था: ‘जो कोई भी इस क्षेत्र पर दबदबा कायम करेगा, वह दुनिया पर राज करेगा।”

रक्षा मंत्री ने कहा, “जिस तरह से यह क्षेत्र बढ़ रहा है, उसे देखते हुए इस संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। लेकिन साथ ही मैं यह भी जोड़ना चाहता हूं कि भारत दुनिया पर राज नहीं करना चाहता। भारत ने हमेशा एक ही संदेश दिया है – पूरा विश्व एक परिवार है। हमारा कभी भी विश्व विजय करने का इरादा नहीं था।” उन्होंने कहा, “लेकिन इसके साथ ही हमें भारत में एआई तकनीक को और भी मजबूत करना होगा ताकि कोई अन्य देश हम पर हावी न हो सके।”

राजनाथ सिंह नई दिल्ली में ‘आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इन डिफेंस’ पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। आर्मी में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के इस्तेमाल पर बोलते हुए रक्षा मंत्री ने कहा, “कई डीआरडीओ इंडस्ट्री अकादमी केंद्र देश भर में स्थापित किए गए हैं। इन केंद्रों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर खास ध्यान दिया गया है। इसी तरह, एआई ऐप्स को बढ़ावा देने के लिए डिफेंस सेक्टर द्वारा ऐसे कई प्रयास किए जा रहे हैं। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का विकास मानव सभ्यता के लिए महत्वपूर्ण है। इसे डेवलप करके मनुष्य ने अपनी श्रेष्ठता साबित की है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मानवता के विकास में एक क्रांतिकारी कदम है।”

इस दौरान रक्षा मंत्री सिंह ने एआई से चलने वाले 75 रक्षा उत्पादों को भी लांच किया। इन 75 उत्पादों में से कुछ पहले से ही सशस्त्र बलों द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे हैं। जबकि शेष तैनाती की प्रक्रिया में हैं।

Related Articles

Back to top button