थाने में इंस्पेक्टर ने दहेज पीड़िता से पूछा- देर लगी आने में, फिर भी तुम आये तो… बताओ किस फिल्म का गाना है …

3

नई दिल्ली । दहेज के लिये छत से फेंकने का आरोप लगाने वाली महिला 3 दिन बाद कोतवाली में शिकायत करने पहुंची तो वहां इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्र ने देर लगी आने में, फिर भी तुम आये तो…गाना सुनाकर मजाक उड़ाया और बिना अपराध दर्ज किए थाने से भगा दिया। इंस्पेक्टर ने पीड़िता को यह भी बताया कि मुझे इसकी जानकारी गांव के ही ‘एक व्यक्ति’ ने दे दी थी। पीड़िता का यह आरोप सोमवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो गया तो हड़कम्प मच गया। आनन फानन अफसरों ने पीड़िता की तहरीर पर एफआईआर दर्ज करवायी और पूरे प्रकरण की जांच डीसीपी दक्षिणी ने शुरू कर दी। हड़कंप मचने के बाद इंस्पेक्टर दीना नाथ मिश्र ने पीड़िता का गाना गाकर मजाक उड़ाने से इनकार किया है।

गौरा के बेलहनी निवासी रेनू की शादी पिछले साल 26 जून को टिकरी निवासी राहुल से हुई थी। शादी के कुछ समय बाद ही उसे दहेज के लिये परेशान किया जाने लगा। पीड़िता ने बताया कि शुक्रवार शाम को ससुराल वालों ने इसी विवाद में उसे छत से नीचे धक्का दे दिया। विरोध करने पर पति ने उस पर चाकू से हमला भी किया। इस पर वह मायके चली गई और दो दिन तक इलाज कराती रही।

पीड़िता ने बताया कि जब वह शिकायत लेकर इंस्पेक्टर के पास गई तो इंस्पेक्टर ने कहा कि तीन दिन पहले ही गांव के एक व्यक्ति ने मुझे इस बारे में बता दिया था। इसके बाद इंस्पेक्टर देर से आने की बात कहकर गाना गाते हुए उनका मजाक उड़ाने लगे। यही नहीं यह भी पूछा किया कि ये किस पिक्चर का गाना है। फिर मुकदमा नहीं लिखा और उनसे जाने को कह दिया।

पीड़िता कोतवाली से बाहर निकली और उसने आपबीती कई लोगों को बतायी। कुछ समय बाद ही सोशल मीडिया पर उसका यह बयान वायरल होने लगा। इस पर अफसर हरकत में आये। अफसरों के आदेश पर पीड़िता की एफआईआर दर्ज कर ली गई। फिर डीसीपी रवि कुमार को इसकी जांच सौंपी दी गई। डीसीपी ने कहा कि जांच शुरू कर दी गई है। वहीं इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्र का कहना है कि एफआईआर दर्ज कर ली गई थी। महिला ने उन पर फर्जी आरोप लगाये हैं। उन्होंने कोई गाना नहीं आया और न ही उनका मजाक उड़ाया।