मध्य प्रदेश

सीएम शिवराज ने गुजरात में कांग्रेस और आप पर बोला हमला, पीएम मोदी को बताया कल्पवृक्ष, राहुल को खरपतवार और केजरीवाल को बबूल का पेड़ बताया

भोपाल। गुजरात विधानसभा चुनाव में मतदाताओं को अपने पक्ष में मत देने के लिए राजनीतिक दल पूरी ताकत से प्रचार में जुटे हुए हैं। इसी के चलते मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी एक दिवसीय दौरे पर प्रचार के लिए गुजरात पहुंच गए है। शुक्रवार को भाजपा के पक्ष में वोट मांगते हुए मुख्यमंत्री ने कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) पर जमकर निशाना साधा। शिवराज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए उनको कल्पवृक्ष बताया है।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भुजपुरा में भाजपा की चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल्पवृक्ष हैं, जो जरूरत है वही मिलेगा। उन्होंने केजरीवाल को बबूल का पेड़ बताते हुए कहा कि वहां केवल कांटे ही मिलेंगे। शिवराज सिंह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि राहुल बाबा खरपतवार हैं, ये फसल ही खराब कर देंगे।
शिवराज सिंह ने भुजपुरा की चुनावी सभा में ये कांग्रेस और आप वाले देश से संतोष और चैन साफ कर देंगे। ये झूठे वादे करने वाले हैं। हालत यह है कि यहां भी अब कांग्रेस में बचा क्या है। हमारे यहां के रिजेक्टेड माल को लड़ा रहे हैं। पुराने कांग्रेसी अंदर बैठे-बैठे कुसमुसा रहे हैं। कांग्रेस की हालत यह हो गई है। इस दिल के टुकड़े हजार हुए, कोई इधर गिरा कोई उधर गिरा। सीएम ने कहा कि कांग्रेस शहीदों का अपमान करती है। कांग्रेस की सरकार रही तब हमें यही पढ़ाया गया कि देश को आजादी नेहरू जी ने दिलाई और किसी को याद ही नहीं करते थे। सीएम ने कहा कि राहुल गांधी ने कल स्वतंत्र वीर सावरकर का अपमान किया है। जिन्हें काला पानी की 2 जन्म की सजा मिली थी, जिन्होंने काला पानी की सजा काटी, देश के लिए सब कुछ लुटा दिया। ऐसे स्वतंत्र वीर सावरकर का तुम अपमान करते हो राहुल गांधी, कांग्रेसियों, ये देश तुम्हें कभी माफ नहीं करेगा।
इसके बाद शिवराज सिंह जिला कच्छ में मांडवी विधानसभा पहुंचे, यहां भी उन्होंने जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आज आपने कच्छ की पगड़ी पहनाकर मेरा स्वागत किया है। अपने देश में पगड़ी से बड़ा सम्मान और कोई नहीं होता है। मैं आपको वचन देता हूं कि आपका सम्मान और गुजरात की शान बढ़ाने में मेरा जो भी योगदान हो सकेगा, मैं दूंगा। यहां का अनार, यहां का ड्रैगन फ्रूट काफी प्रसिद्ध है। कच्छ वाले जहाँ जाते हैं, वहाँ छा जाते हैं। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी जी के प्रयासों से नर्मदा नदी का पानी कच्छ तक आया है।
उन्होंने कहा कि मैं रोज मध्यप्रदेश में एक पौधा लगाता हूं। पेड़ लगाने से बड़ा पुण्य और कोई नहीं है। पेड़ हमें ऑक्सीजन तो देते ही हैं, साथ ही नर्मदा जी में जल की धारा बनाए रखने में भी मदद करते हैं। पेड़ हैं, तो नर्मदा जी हैं। मैं वचन देता हूं, नरेंद्र भाई नर्मदा का पानी कच्छ तक लेकर गए, मैं मां नर्मदा में पानी की कमी नहीं आने दूंगा। ये कांग्रेसी और मेधा पाटकर जैसे लोग आंदोलन करते थे और मुझे गाली देते थे कि हमारा पानी गुजरात को क्यों दे रहे हो। नर्मदा जी का पानी यहां आया, तो इधर के खेत लहलहा उठे।
कांग्रेस ने सच्चे क्रांतिकारियों को भुला दिया
शिवराज सिंह ने कहा कि हमें आजादी कोई चांदी की तश्तरी में नहीं मिली थी, हजारों क्रांतिकारियों ने अपने प्राणों की आहुति दी, तब जाकर हमें आजादी मिली। क्रांतिकारी हंसते हुए फांसी पर लटकते थे और प्रार्थना करते थे कि मैं फिर यहीं जन्म लूं और मरूँ और तब तक जन्म लेता रहूँ, जब तक देश आजाद न हो जाए। लेकिन, कांग्रेस ने क्रांतिकारियों को भुला दिया। कांग्रेस ने केवल यही पढ़ाया कि आजादी केवल एक ही परिवार ने दिलाई। कल राहुल गांधी ने स्वतंत्र वीर सावरकर का अपमान किया। इनके स्वभाव में है अपमान करना! इनके नेता रोज नरेंद्र भाई का अपमान करते हैं। नरेंद्र भाई तो प्रधानमंत्री हैं, उनकी देवी स्वरूपा माँ का भी अपमान करते हैं। यह देश का अपमान है और यह अपमान जनता स्वीकार नहीं करेगी।
10 घंटे में 4 सभाएं करेंगे सीएम शिवराज, देर रात वापस भोपाल लौटेंगे
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज गुजरात दौरे पर हैं। वे गुजरात में चल रहे विधानसभा चुनाव में BJP प्रत्याशियों के समर्थन में सभाएं करेंगे। सीएम 10 घंटे में चार सभाएं करेंगे और देर रात भोपाल वापस लौटेंगे। सुबह 9 बजे वे गुजरात के लिए रवाना हो गए। सीएम चौहान हवाई सफर करके सुबह गुजरात पहुंचे। मुंद्रा एयरपोर्ट पर कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। वे मांडवी, अबडासा, मोरवी और भावनगर विधानसभाओं में बीजेपी प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी सभाएं कर रात 11 बजे वापस भोपाल पहुंचेंगे। गुजरात विधानसभा चुनाव में मध्यप्रदेश के कई वरिष्ठ बीजेपी नेताओं ने भी मैदान संभाल रखा है। कई नेता-मंत्री लंबे समय से गुजरात में ही डेरा डाले हुए हैं। अब प्रचार का अंतिम चरण चल रहा है। इसलिए सीनियर लीडर्स मैदान में उतरे हुए हैं। इसके चलते ही सीएम शिवराज भी सभाएं कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button