मध्य प्रदेश

एमपी में बाढ़ प्रभावितों को हुए नुकसान का सर्वे कर दिलवाई जाएगी राहत राशि, क्षतिग्रस्त घर, गृहस्थी के सामान और अनाज के लिए भी मिलेगी पूरी मदद: शिवराज

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पिछले दिनों हुई भारी बारिश और बाढ़ की स्थिति के बाद जिन खेतों, घरों में पानी घुसा, फसलें बर्बाद हुई तथा कच्चे घरों और सामान का नुकसान हुआ है, उन्हें राहत राशि दिलवाई जाएगी। मुख्यमंत्री बीना रिफाइनरी हेलीपेड पर पहुँचने के बाद विदिशा जिले के कुरवाई स्थित बाढ़ आपदा केंद्र में ग्रामीणों को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि बाढ़ का पानी उतरने के तत्काल बाद नुकसान का सर्वे करवाया जाएगा। मुख्यमंत्री चौहान ने बाढ़ प्रभावितों से कहा कि जिनके घर गिर गए हैं, उनको घर निर्माण के लिए भी राशि दिलाई जाएगी। जिनकी घर-गृहस्थी का सामान बह गया है और अनाज का नुकसान हुआ है, उन्हें भी पूरी मदद दिलाई जाएगी। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से कहा कि वे चिंता न करें। बाढ़ पीड़ितों को संकट के पार निकाल कर उनकी हर संभव मदद की जाएगी।

बाढ़ का पानी उतरने के बाद पूरी पारदर्शिता के साथ सर्वे होगा। सर्वे की सूची सार्वजनिक रूप से प्रदर्शित करवाई जाएगी। किसी को आपत्ति होने पर उसकी सुनवाई भी होगी। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आपदा में कोई मतभेद या भेदभाव नहीं होना चाहिए। सभी को मिल कर विषम परिस्थिति का सामना करना चाहिए। मुख्यमंत्री चौहान ने युवा मोर्चा, सामाजिक संस्थाओं और जन-प्रतिनिधियों का सहयोग देने के लिए आभार भी माना।

मुख्यमंत्री चौहान ने कुरवाईवासियों से कहा कि आप लोग यहाँ निश्चिंत होकर रहे। आपके साथ आपका मुख्यमंत्री खड़ा है। आपकी हर संभव मदद की जाएगी। उन्होंने निर्देश दिए कि बाढ़ राहत केंद्र में आवश्यक सभी व्यवस्था सुनिश्चित की जाये एवं प्रभावितों को भोजन, चाय-नाश्ता, पेयजल सभी उपलब्ध कराएँ। उन्होंने कहा कि इसके बाद जब आप अपने घर पहुँचेंगे तब भी आपको राशन उपलब्ध कराया जाएगा। मुख्यमंत्री चौहान ने कुरवाई में वार्ड क्रमांक 3, पटेल ढाबा, बिजली ऑफिस सहित अन्य स्थानों का जायजा लिया एवं वहाँ रह रहे बाढ़ पीड़ितों को सांत्वना दी और अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री कुरवाई के बाद बीना रिफायनरी हेलीपेड पहुँचे, जहाँ से वे भोपाल के लिए रवाना हुए। इस दौरान सांसद राज बहादुर सिंह, विधायक महेश राय और हरि सिंह सप्रे,पूर्व विधायक वीर सिंह पवार, सागर संभागायुक्त मुकेश शुक्ला, आईजी अनुराग, कलेक्टर दीपक आर्य, पुलिस अधीक्षक तरुण नायक सहित जन-प्रतिनिधि और अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button