मध्य प्रदेश

बिशप पीसी सिंह पर ईओडब्ल्यू के बाद अब ईडी ने भी कसा शिकंजा …..

जबलपुर। भ्रष्टाचार, आर्थिक अनियमितता, धर्मांतरण सहित विदेशी फंडिंग के आरोपों में फंसे बिशप पीसी सिंह पर ईओडब्ल्यू के बाद अब ईडी ने भी शिकंजा कस दिया है। ईडी ने बिशप पीसी सिंह के खिलाफ फेमा के तहत केस दर्ज किया गया है। बिशप के घर से जो देशी-विदेशी करंसी मिली है कहीं वो हवाला की रकम तो नहीं है। इसी रकम का इस्तेमाल धर्मांतरण के लिए हो रहा था क्या। इन्हीं बिंदुओं पर ईडी द्वारा जांच की जाएगी।

ईओडब्ल्यू की जांच में अब तक करोड़ों की संपत्ति अर्जित करने की बात सामने आई थी। बिशप के 178 बैंक खाते, करोड़ों की एफडी, लग्जरी कारें और प्राइवेट एयरक्राफ्ट से सैर सपाटा करने की तस्वीरों ने बिशप के आलीशान जीवन शैली का पर्दाफाश किया था। ईओडब्ल्यू को मिली शिकायत के आधार पर बिशप के 2004 से लेकर 2012 तक के खातों और लेन देन की जांच की गयी है। इसमें बिशप के देशभर के अनेक धार्मिक संस्थाओं को 2 करोड़ 72 लाख रुपये की राशि अलग-अलग खातों में स्थानांतरित करने के सबूत मिले थे। उसके बाद मुकदमा दर्ज करते हुए ईओडब्ल्यू ने अपनी जांच के दायरे को बढ़ाया था।

बिशप पर मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट में भी हो सकता है केस दर्ज

इस बीच ईडी ने फेमा के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। जबकि पीएमएलए यानि प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत भी एक और मुकदमा ईडी दर्ज कर सकती है। स्पष्ट है कि अब तक की जांच में बिशप को अलग-अलग खातों में आए विदेशी फंड के सुबूत भी ईडी और ईओडब्ल्यू को मिल गए हैं। इतना ही नहीं हवाला की रकम की हेरफेर का भी आईडी को अंदेशा है। इसलिए एक और नई f.i.r. बिशप पीसी सिंह पर दर्ज हो सकती है।

आज हो सकता है बड़ा खुलासा

ईओडब्ल्यू को मिली बिशप की 4 दिन की रिमांड आज शुक्रवार शाम खत्म हो रही है। ऐसी स्थिति में ईओडब्ल्यू रिमांड के दौरान पीसी सिंह द्वारा किए गए खुलासे कर सकता है। बिशप के घर से 1 करोड़ से अधिक भारतीय करंसी, डॉलर और पौंड भी मिले थे। इसके बाद नित जानकारियां उजागर हो रही थीं। बिशप पीसी सिंह के घर जब ईओडब्ल्यू ने छापा मारा, तब वह जर्मनी गया हुआ था। जर्मनी से भारत लौटने पर ईओडब्ल्यू ने सीआरपीएफ की मदद से बिशप को नागपुर एयरपोर्ट से दबोच लिया था।

Related Articles

Back to top button