Breaking News

उतरदा विद्यालय के व्याख्याता राकेश टंडन शिक्षा विभाग द्वारा चलाई जा रहे अभियान में अभिभावकों व छात्र-छात्राओं को कर रहे जागरूक …

कोरबा । शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उतरदा के व्याख्याता राकेश टंडन के द्वारा स्कूल शिक्षा विभाग जिला कोरबा के द्वारा चलाई जा रही कोरोना जागरूकता अभियान को लगातार पांचवें दिन भी सफलतापूर्वक ऑनलाइन मीटिंग के माध्यम से जिले के अन्य शिक्षक शिक्षिकाओं तथा छात्र-छात्राओं एवं अभिभावकों को कोविड-19 के इस महामारी काल में सावधानी बरतने के लिए संदेश दिए।

प्रथम दिवस पर उनके द्वारा सिस्को वेबैक्स एवं पढ़ाई तुहार द्वार के माध्यम से कोरबा जिला सहित अन्य जिलों के छात्र छात्राओं को कोविड-19 के बारे में बता कर सतर्कता अपनाने के लिए प्रेरित किया। द्वितीय दिवस में छत्तीसगढ़ विज्ञान सभा के माध्यम से कोरबा जिला के शिक्षक-शिक्षिकाओं तथा संस्था प्रमुखों को कार्यक्रम में शामिल होने के लिए प्रेरित कर कोरोना के लक्षण बचाव के उपाय तथा ‘कोरोना काल में हम तनाव प्रबंधन को सकारात्मक रूप से कैसे करें विषय पर कार्यशाला का आयोजन हुआ।

तृतीय दिवस में एनएसयूआई के ब्लॉक अध्यक्ष मनमोहन राठौर, कोरबा जिला के एनएसयूआई के युवा नेता कमलेश प्रजापति, प्राचार्य श्रीमती ललिता साहू, सुश्री प्रभा साव, श्रीमती मल्लिका टंडन आदि प्रमुख वक्ताओं के द्वारा छात्र-छात्राओं को कोरोनाकाल को वरदान के रूप में परिवर्तित करने के लिए सकारात्मक सोच के साथ घर में रहते हुए विविध प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए धीरे-धीरे तैयारी करते रहने की सलाह दी। तथा समय सारणी बनाकर अपने व्यवहार में सकारात्मक सोच बनाए रखने के लिए प्रेरित किया।

चतुर्थ दिवस की कार्यशाला में विश्वनाथ कश्यप प्राचार्य शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पोडी लाफा, श्रीमती ललिता साहू प्रभारी प्राचार्य शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बल्गिखार, श्रीमती निशा चंद्रा व्याख्याता शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय करतला, सुश्री प्रभा साव शासकीय हाई स्कूल स्याहीमुडी, सर्वेश सोनी प्रधान पाठक शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला बिन्झरा, भुपेन्द्र राठौर, पी.पी अंचल व्याख्याता शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उतरदा के द्वारा कोरोना के रोकथाम के लिए मास्क लगाने, फिजिकल डिस्टेंसिंग अपनाने, हाथ धोने तथा सैनिटाइजर का उपयोग करने, विटामिन सी युक्त फल खाने जैसे नींबू, संतरा इत्यादि, गर्म पेय पदार्थ, भुईनीम काढ़ा पीने तथा दिन में तीन बार भाप लेने की जानकारी प्रदान की गई।

पंचम दिवस के कार्यशाला में जिला शिक्षा अधिकारी सतीश पांडे द्वारा कार्यशाला में उपस्थित शिक्षक शिक्षिकाओं छात्र-छात्राओं तथा अभिभावकों को कोरोना बीमारी आने के पूर्व उसकी रोकथाम कैसे करें विषय पर जानकारी प्रदान किया गया। साथ ही सभी को प्रेरित करते हुए कहा कि यदि जितने लोग इस कार्यशाला में जुड़े हैं वे सभी तो दो अन्य लोग को तथा वे भी दो लोगों को यदि मास्क लगाने, फिजिकल डिस्टेंसिंग में रहने, घर में रहने, भाप लेने के लिए प्रेरित करे तो निश्चित ही कोरोना की कड़ी को तोड़ी जा सकती है तथा कोरोना महामारी को भयानक स्थिति में आने से रोका जा सकता है।

कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती शिवकला कंवर, विश्वनाथ कश्यप प्राचार्य, वीरभद्र सिंह पैकरा प्राचार्य, श्रीमती रमाउमा निडि प्राचार्य, जी पी लहरें प्रभारी प्राचार्य, श्रीमती ललिता साहू प्रभारी प्राचार्य, श्रीमती सीमा चतुर्वेदी, श्रीमती गीता देवी हिमधर, श्रीमती मंजुला श्रीवास्तव, लखन लाल धीवर, परमेश्वर प्रसाद अंचल, सर्वेश सोनी, श्री गौरव शर्मा समस्त व्याख्यातागण, मनमोहन राठौर ने कोरोना जागरूकता संबंधी अपना संदेश दिए तथा टीकाकरण के महत्व को भी बताएं। कार्यक्रम में कोरबा जिला के शिक्षक शिक्षिकाएं, छात्र-छात्राएं तथा ग्रामीण जन सम्मिलित हुए।

Check Also

बंगाल हिंसा के विरोध में भाजपा के रौशन सिंह ने दिया धरना …

बिलासपुर । प्रदेश भाजपा नेतृत्व के आह्वान पर पश्चिम बंगाल हिंसा के विरोध में सोशल …

error: Content is protected !!
Secured By miniOrange