मध्य प्रदेश

पेंडिंग बिल भुगतान के लिए 25 हजार रुपए घूंस लेते पीडब्ल्यूडी इंजीनियर कमल सिंह पकड़ा गया …

भोपाल। राजधानी में लोकायुक्त ने पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन यंत्री को शनिवार को 25 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। आरोपी इंजीनियर ने एक कांट्रेक्टर से 67 लाख रुपए का पेंडिंग बिल और सिक्योरिटी डिपॉजिट राशि रिलीज करने के लिए एक प्रतिशत की रिश्वत मांगी थी।

लोकायुक्त डीएसपी सलिल शर्मा ने इस संबंध में बताया कि कांट्रेक्टर महेंद्र पांडेय ने लोकायुक्त एसपी से शिकायत की थी कि उसने खुशीलाल शर्मा आयुर्वेद संस्थान में बाउंड्री वॉल व एप्रोच रोड बनाई थी। इस काम के पेंडिंग बिल और सिक्योरिटी डिपॉजिट की राशि करीब 67 लाख रिलीज करने के लिए कार्यपालन यंत्री कमल सिंह कौशिक द्वारा एक प्रतिशत के हिसाब से रिश्वत राशि की मांग की जा रही है।

इस पर योजना बनाकर कांट्रेक्टर को आज इंजीनियर के पास रिश्वत की राशि देने के लिए भेजा। कांट्रेक्टर ने जैसे ही नेहरू नगर चौराहे पर इंजीनियर को रिश्वत दी, तभी लोकायुक्त ने दबोच लिया।

Related Articles

Back to top button