Breaking News

नेपाल हुआ सतर्क, भारत के लोगों की नेपाल में घु़सने से रोकने के लिए 22 एंट्री प्वाइंट कर दिए बंद …

काठमाडू। भारत में जारी कोरोना की दूसरी लहर से पड़ोसी देश नेपाल भी सतर्क हो गया है। वहां की सरकार ने भारत के साथ लगने वाली सीमा पर 22 एंट्री प्वाइंट्स को बंद कर दिया है। कोरोना के संक्रमण को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। आपको बता दें कि नेपाल में फिलहाल लॉकडाउन है।

पड़ोसी देश नेपाल ने इससे पहले पहली लहर में भी प्रवेश द्वारों को बंद कर दिए थे। हालांकि बाद में धीरे-धीरे इसे खोल दिया गया था।

हिमालयी देश नेपाल में कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी का संकट गहराता जा रहा है, जहां इस महामारी के संक्रमण से एक ही दिन में रिकॉर्ड 35 लोगों की मौत हो गयी है। नेपाल स्वास्थ्य एवं जनसंख्या मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में देश में कोराना के कहर से 35 लोगों की जान चली गयी, जो एक दिन में अभी तक का यह सबसे अधिक आंकड़ा है। नेपाल में पिछले साल महामारी को प्रकोप शुरू हुआ था।

पिछले साल चार नवंबर को इस महामारी से एक ही दिन में सबसे ज्यादा 30 लोगों की मौत हुई थी। देश में गुरुवार तक इस महामारी से कुल 3,246 लोगों की जान जा चुकी है। मंत्रालय ने कहा कि कोरोनो वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर हाल के दिनों में मृत्यु दर भी बढ़ी है।

काठमांडू स्थित सुक्राराज ट्रॉपिकल एंड इंफेक्शियस डिजीज हॉस्पिटल में क्लिनिकल रिसर्च यूनिट के प्रमुख शेर बहादुर पुन ने कहा, “नई लहर भी अधिक संक्रामक और खतरनाक साबित हुई है और पहली लहर की तुलना में दूसरी लहर में कई लोग अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं।” मंत्रालय के अनुसार देश में गुरुवार को कोरोना के 4928 नए संक्रमित मामले सामने आए है। जो की एक दिन में संक्रमित मामलों की तीसरी सबसे बड़ी संख्या है। हाल के दिनों में देश में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ा है।

Check Also

स्पूतनिक-वी की 1.5 लाख डोज लेकर रूसी विमान भारत के लिए रवाना …

नई दिल्ली (पंकज यादव) । भारत में कोविशील्ड और कोवैक्सिन के साथ कोरोना के खिलाफ …

error: Content is protected !!
Secured By miniOrange