छत्तीसगढ़बिलासपुर

32वां बिलासा महोत्सव 19, 20 फरवरी को होगा आयोजित …

बिलासपुर। बिलासा कला मंच बिलासपुर का प्रतिष्ठा पूर्ण आयोजन  बिलासा महोत्सव 19 एवम् 20 फरवरी को पंडित देवकी नन्दन दीक्षित सभा भवन, लाल बहादुर शास्त्री विद्यालय परिसर,बिलासपुर में आयोजित होगा।

मंच के संस्थापक डा सोमनाथ यादव ने बताया कि विगत 31 वर्ष से बिलासा महोत्सव तीन दिवसीय  आयोजित किया जाता रहा है  कोरोना के कारण पिछले वर्ष से दो दिनी किया जा रहा है।  शनिवार 19 फरवरी को संध्या 5 बजे से “लोक संस्कृति संदर्भ छत्तीसगढ़ और नदियां” विषय पर राष्ट्रीय संगोष्ठी आयोजित होगा। संगोष्ठी के मुख्य अतिथि आचार्य ए डी एन वाजपेई

कुलपति, अटल बिहारी वाजपेई वि. वि. बिलासपुर होंगे, संगोष्ठी की अध्यक्षता डा विनय कुमार पाठक पूर्व अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग करेंगे। विशिष्ठ अतिथि के रूप में त्रिलोक चंद महावर वरिष्ठ साहित्यकार, डायरेक्टर, अकादमी ऑफ एडमिनिस्ट्रेशन रायपुर उपस्थित रहेंगे, संगोष्ठी के मुख्य वक्ता डा ओमप्रकाश भारती विभागाध्यक्ष,प्रदर्शनी कला विभाग, महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय वि. वि.वर्धा होंगे। प्रस्तावना डा अजय पाठक वरिष्ठ साहित्यकार का होगा।

रविवार 20 फरवरी को संध्या 6 बजे से बिलासा महोत्सव में गीत,संगीत,नृत्य का रंगझाझर प्रस्तुति होगी। महोत्सव  के मुख्य अतिथि अटल श्रीवास्तव अध्यक्ष,छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल होंगे । कार्यक्रम की अध्यक्षता रामशरण यादव महापौर,नगर निगम बिलासपुर करेंगे। वही विशिष्ठ अतिथि के रूप में डा लालित्य ललित  संपादक,राष्ट्रीय पुस्तक न्यास नईदिल्ली, डा अनीश चंद्र जनसंपर्क अधिकारी एसईसीएल बिलासपुर ,

डा संजीव कुमार वरिष्ठ साहित्यकार,दिल्ली उपस्थित रहेंगे। इस अवसर पर प्रति वर्ष  दिए जाने वाले विशिष्ठ सम्मान में बिलासा कला सम्मान गणेश मेहता,बिलासपुर को बिलासा साहित्य सम्मान डा संजीव कुमार दिल्ली को बिलासा सेवा  सम्मान मंसूर खान बिलासपुर को और बिलासा युवा रत्न सम्मान विनोद डोंगरे खैरागढ़ को प्रदान की जाएगी।

महोत्सव में  छत्तीसगढ़ी वाद्य-संगीत की प्रस्तुति  संजू सेन, गुण्डरदेही द्वारा,पंडवानी गायन दिनेश गुप्ता,बिलासपुर द्वारा छत्तीसगढ़ी रंगझाझर हिलेन्द्र ठाकुर,बिलासपुर द्वारा नाचा-गम्मत  मन्नालाल गंधर्व,बिलासपुर द्वारा और छत्तीसगढ़ी रंगझाझर प्रस्तुति बालचंद साहू,बिलासपुर एवम् सहयोगी कलाकारों द्वारा दी जाएगी वही हाई स्कूल लिमतरी के बच्चों की छत्तीसगढ़ी नृत्यों की प्रस्तुति होगी। बिलासा कला मंच ने सुधिजनों को बिलासा महोत्सव में सादर आमंत्रित किया है।

Related Articles

Back to top button