Breaking News

स्वागत होली का …

 

अखबारों की सुर्खियां

मन मस्तिष्क को

झकझोरती हैं

टटोलतीं हैं

 

हमारे इर्द गिर्द

हमारे मनोभावों को

उलझते सुलझते

हम नजरअंदाज कर

आगे बढ़ने की कवायद

करते हैं

 

इनसे बचना ही

जिंदगी का सच है!

 

©लता प्रासर, पटना, बिहार

Check Also

कोरोना …

  यह क्या कोहराम मचा रखा है? यों तो तुम छोटे- बड़े अमीर – गरीब …

error: Content is protected !!