Breaking News

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मार्गदर्शन में कोरोना जांच में वृद्धि, मरीजों के त्वरित इलाज और वैक्सीनेशन से घट रही हैं संक्रमितों की संख्या …

रायपुर (गुणनिधि मिश्रा) । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मार्गदर्शन में कोरोना जांच की संख्या में वृद्धि, मरीजों के त्वरित इलाज और वैक्सीनेशन के जरिए कोरोना नियंत्रण के प्रयास किए जा रहे हैं। राज्य में कोरोना गाइडलाइन का पालन के साथ ही कंटेन्मेंट जोन और लॉकडाउन के माध्यम से भी कोरोना के प्रसार को रोकने की पहल की जा रही है। इन सब प्रयासों से प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी आई है। कोरोना पीड़ितों को राहत पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री बघेल के निर्देश पर जिला प्रशासन द्वारा जिला एवं विकासखण्ड स्तर में स्थित कोविड केयर सेंटरों में वेंटिलेटर, आईसीयू और ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। इसके अतिरिक्त कलेक्टरों के माध्यम से मरीजों को प्राथमिकता के तौर पर रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं आवश्यक दवाईयां उपलब्ध कराई जा रही है।

कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने तथा पीड़ितों के त्वरित इलाज के लिए आवश्यकता अनुसार उन्हें क्वारेंटाइन सेंटर और आइसोलेशन केेन्द्र में रखने की व्यवस्था भी की गई है। जांजगीर-चांपा जिले में गत दिवस डॉक्टरों के बेहतर इलाज और जिला प्रशासन की बेहतर प्रबंधन के कारण होम आइसोलेशन में कोरोना का इलाज करा करे 425 मरीजों ने कोरोना का हराया है। यह जिले और प्रदेश के लिए बड़ी उपलब्धि है जो कोरोना को हराने में उम्मीद की जगाता है।

जिले में कलेक्टर की देख-रेख में कोविड अस्पतालों और कोविड केयर सेंटरों में समुचित प्रबंध किए गए हैं। इसके लिए जिला अस्पताल परिसर जांजगीर-चांपा में एसईटीसी में 9 बेड आईसीयू के और 71 बेड ऑक्सीजन युक्त हैं। इसके अलावा 12 कोविड केयर सेंटर्स में 1220 बेड की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। कोविड केयर सेंटर्स के 114 बेड में ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध है। समुचित इलाज के फल स्वरुप अस्पताल में भर्ती मरीज तथा चिकित्सकों की निगरानी में उपचार करवा रहे होम आइसोलेशन के 425 मरीज आज पूरी तरह स्वस्थ्य हो गए। इसी प्रकार जांजगीर-चांपा जिले के पामगढ़ अनुविभाग के एसडीएम करूण डहरिया ने जनसहयोग के माध्यम से कोविड केयर सेंटर खोलने का प्रसंशनीय पहल की है, इसके लिए उन्होंने अपने एक माह का वेतन देने की घोषणा की है। उन्होंने 50 बेड सर्वसुविधायुक्त कोविड केयर सेंटर तैयार करने के लिए समाज सेवी व आम नागरिकों से भी सहयोग करने की अपील की है।

कबीरधाम (कवर्धा) जिले में कोरोना संक्रमण को रोकने तथा पीड़ितों की इलाज के लिए आवश्यक अन्य व्यवस्था उपलब्ध कराने के लिए चिकित्सा दलों और जिला प्रशासन द्वारा बेहतर प्रबंधन भी किया जा रहा है। जरूरतमंदों को प्राथमिकता के तौर पर ऑक्सीजन बेड उपलब्ध कराने के लिए 82 बेड से बढ़ाकर 98 बेड किया गया है। वहीं साधारण बेड 140 से बढ़ाकर 300 बेड किया गया है। इस दिशा में पहल करते हुए जिले के प्रभारी मंत्री के निर्देश पर जिला प्रशासन द्वारा 85 ऑक्सीजनयुक्त बेड उपलब्ध कराया गया है। इसके अलावा कोविड सेंटरों में 172 रेमडेसिविर इंजेक्शन भी भेजा गया है।

Check Also

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की बड़ी घोषणा : पत्रकारों, वकीलों तथा उनके परिजनों को भी फ्रंट लाईन वर्कर के समान टीकाकरण में मिलेगी प्राथमिकता …

रायपुर (गुणनिधि मिश्रा) । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए टीकाकरण …

error: Content is protected !!