मध्य प्रदेश

अमरकंटक पहुंची उमा भारती ने भाजपा नेताओं से मिलने से किया साफ इंकार, कल्याण सेवा आश्रम में संत हिमाद्री मुनि से की मुलाकात ….

भोपाल। उमा भारती सोमवार को अमरकंटक पहुंची। यहां उन्होंने कल्याण सेवा आश्रम पहुंचकर संत हिमाद्री मुनि से मुलाकात की। इसके बाद कल्याण आश्रम की गौशाला कपिला संगम गईं। इस मौके पर उन्होंने एक नवजात बछड़े को गोद में लेकर दुलार भी किया। इस दौरान वे पार्टी नेताओं से दूरी बनाए हुए हैं। उन्होंने सर्किट हाउस में पार्टी नेताओं से मिलने से इनकार कर दिया। सर्किट हाउस में रुकने के बाद वह पैदल मंदिर पहुंची। रात्रिकालीन आरती में सम्मिलित हुई थीं। उमा भारती अमरकंटक में हैं। यहां कुछ देर सर्किट हाउस में रुकने के बाद वे पैदल मां नर्मदा मंदिर पहुंची और दर्शन किए।

पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती जबलपुर से अमरकंटक जाते समय अल्प समय के लिए डिंडोरी पहुंची। यहां रेस्ट हाउस में उन्होंने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि हजारों साल से नर्मदा मैया बह रही है। वह सरकार के भरोसे थोड़े ही है। नर्मदा भक्त साफ सफाई करें, गंदगी को न मिलने दें, नर्मदा किनारे गंदगी न करे। केंद्र सरकार ने स्वच्छता अभियान चलाया, सुविधाघर बनवाए, इससे गंदगी कम हुई है। पहले तो नर्मदा के किनारे चलना मुश्किल था। मैंने खुद गंगा नदी के किनारे उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड के लगभग चार हजार गांवों को ओडीएफ करवाया था।

नदी के किनारे होने वाले धार्मिक आयोजनों में साधु-संत भी अपील करे कि श्रद्धालु गंदगी न फैलाए, साफ सफाई करें। उमा भारती ने कहा कि सरकार का काम सरकारी स्कूलों में अच्छी शिक्षा, सरकारी अस्पतालों में अच्छा इलाज, प्रदेश में अच्छी सड़कें बनवाना, भ्रष्टाचार मुक्त शासन, अच्छी कानून व्यवस्था और बेरोजगारों को रोजगार से जोडऩे का है।

इससे एक दिन पहले अमरकंटक जाते समय उमा भारती रविवार देर शाम कुछ देर के लिए डिंडौरी में रुकी थी। यहां रेस्ट हाउस में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने एक बार फिर प्रदेश में शराब बिक्री को लेकर चर्चा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि, जगह-जगह शराब बिक रही है, इसका मुझे बहुत दु:ख है। बातचीत के दौरान उमा भारती ने कहा कि, शनिवार को मैं धुंआधार भेड़ाघाट में थी। वहां के लोगों का कहना था कि, शहर में गली-गली शराब बिक रही है। तर्क ये दिया जाता है कि, शराब दुकानें बंद हैं, लेकिन इसके बावजूद वहां अधिक अवैध शराब बिक रही है। वैध बिक्री भी बंद होना चाहिए। पार्टी और सरकार पर उन्होंने भरोसा तो जताया, लेकिन ड्राफ्ट को लेकर आशंका भी जाहिर की।

Related Articles

Back to top button