चुनाव प्रभारी अर्जुन तिवारी ने ली छह घंटे की मैराथ बैठक ….

2

मरवाही। आसन्न मरवाही उपचुनाव में फतह हासिल करने की गरज कांग्रेस की पुख्ता रणनीति का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि चुनाव घोषणा होने के पहले मतदान के दिन बूथ में बैठने वाले मतदान एजेंट तक का नाम तय कर प्रशिक्षण की तैयारी कर ली गई है।

मरवाही उपचुनाव में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के तरफ से गौरेला ब्लॉक के लिये नियुक्त चुनाव प्रभारी प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री अर्जुन तिवारी ने आज ब्लॉक मुख्यालय गौरेला में लगातार 6 घंटे बैठक लेकर ब्लॉक के छोटे बड़े सभी कांग्रेसी नेताओं को ऊर्जा व उत्साह से लबरेज करते हुये मरवाही उपचुनाव हर हाल में जीतने का विश्वास पैदा कर दिया।

ज्ञात हो कि विधानसभा चुनाव 2018 में मरवाही विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी का जमानत जब्त हो गया था और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी प्रचंड मतों से यहाँ चुनाव जीतने में कामयाब हुये थे लेकिन बदली परिस्थिति में अबकी बार मरवाही को कांग्रेसी किसी भी सूरत में जhतना चाहते हैं। इसी लिहाज से मरवाही को 4 ज़ोन में बांटकर 2 विधायकों शैलेश पांडेय व विधायक मोहित केरकेट्टा तथा प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री अर्जुन तिवारी, मरवाही के क्षेत्रीय नेता उत्तम वासुदेव को जिम्मेदारी दिया गया है।

महामंत्री तिवारी ने आज ब्लॉक कांग्रेस कमेटी गौरेला के कार्यकारिणी व पदाधिकारियों की बैठक लिये तत्पश्चात बूथ कमेटी, सेक्टर व ज़ोन कमेटी के पदाधिकारियों की बैठक लिये। मतदान एजेंट का नाम चिन्हित कर उनसे रूबरू होते, ब्लॉक के वरिष्ठ कांग्रेस जनों से चुनावी रणनीति पर चर्चा कर तब और आज की बदली परिस्थितियों पर चर्चा किये।

केंद्र द्वारा पारित किसानों के खिलाफ काले कानून के विषय में नफा-नुकसान के नजरिये से जिला किसान कांग्रेस के पदाधिकारियों से बातचीत किये। देर रात तिवारी छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में ग्रामीण अर्थव्यवस्था के सुदृढ़ीकरण और हितग्राही मूलक योजनाओं के क्रियान्वयन के संदर्भ में जिले के पंचायत सचिव संघ के पदाधिकारियों से विस्तार से चर्चा कर जमीनी हकीकत की वास्तविकताओं से रूबरू हुये।

इस दरम्यान सभी बैठकों व कार्यक्रमों में जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मनोज गुप्ता, गुलाब सिंह, ज्ञानेंद्र उपाध्याय, ब्लॉक कांग्रेस अध्य्क्ष अमोल पाठक, जनपद अध्यक्ष ममता पैकरा, उपाध्यक्ष श्रीमती राठौर, जिला महिला कांग्रेस की अध्यक्ष श्रीमती गजमती भानु, श्याम कश्यप सहित वरिष्ठ कांग्रेस जन उपस्थित थे।