स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा- कोरोना रिकवरी दर में छत्तीसगढ़ बेहतर स्थिति में …

5

रायपुर (प्रमोद शर्मा) । प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का कहना हैँ कि कोरोना छत्तीसगढ़ में अभी चिंताजनक है लेकिन रिकवरी दर में हम बहुत अच्छी स्थिति में हैं। यहां 97 फीसदी पॉजिटिव स्वस्थ हो रहे हैं। लॉकडाउन का असर हमेशा अच्छा ही होता है। इसका परिणाम एक सप्ताह बाद देखने को मिलेगा।

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने दिल्ली बुलेटिन से कोरोना के संबंध में एक खास बातचीत में कहा कि छत्तीसगढ़ में कोरोना अभी चिंताजनक स्थिति में है। लोग जितना अधिक सतर्क रहेंगे उतना ही अधिक कोरोना पर नियंत्रण होगा। भीड़-भाड़ वाली जगह पर लोग कोरोना को भूल जाते हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होता। बाहर निकलने के बाद लगातार सेनिटाइज करते रहें तो कोरोना से कुछ हद तक बचा जा सकता है।

लॉकडाउन के बारे में श्री सिंहदेव का कहना है कि जब-जब प्रदेश में या किसी जिले में लॉकडाउन हुआ तब उसका परिणाम बेहतर ही आया है। अभी लॉकडाउन चल रहा है इसका परिणाम एक सप्ताह बाद मिलेगा। कोरोना के अभी जो आंकड़े आ रहे हैं वह लॉकडाउन के पहले की है। उन्होंने कहा कि लोग अस्पताल जाने से बच रहे हैं यह ठीक नहीं है। कोरोना के प्रारंभिक लक्षण भी यदि नजर आए तो जांच करवानी चाहिए। लोग घर में ही दवाइयां लेना शुरू कर देते हैं और जब स्थिति बिगड़ती है तब वे अस्पताल जाते हैं। छत्तीसगढ़ में इलाज की बेहतर व्यवस्था है। यहां पर रिकवरी दर अन्य राज्यों व देशभर के कुल रिकवरी दर से बहुत बेहतर स्थिति में है। भारत में कुल रिकवरी दर 82.07 फीसदी है। जबकि यह छत्तीसगढ़ में 97 फीसदी है। इस रिकवरी दर एक फीसदी और बढ़ाने का प्रयास चल रहा है।

माह मार्च 2020 में श्री सिंहदेव ने यह कहा था कि प्रदेश में कोरोना का असर अगस्त-सितंबर में बढ़ेगा। उस समय लोगों को उनकी बातों पर भरोसा हुआ या नहीं लेकिन उनका अनुमान सौ फीसदी सही निकला। अब उन्होंने यह कहा है कि धीरे-धीरे कोरोना पीड़ितों की संख्या में कमी होगी मगर एक माह बाद फिर से कोरोना के मरीज बढ़ेंगे। ऐसा वे दूसरे देशों के आंकड़ों को देखते हुए कह रहे हैं।