नई दिल्ली

स्मृति ईरानी से अलका लांबा ने पूछा- क्या आपकी बेटी जोइश ईरानी ने शराब के लिए लाइसेंस फर्जी तरीके से लिया था …

नई दिल्ली। कांग्रेस प्रवक्ता अलका लांबा ने अपनी सोशल मीडिया हैंडल से एक वीडियो जारी करते हुए कहा कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की बेटी को लेकर गोवा के अखबारों में खबर छपी हुई है। उन्होंने आगे कहा, ‘स्मृति ईरानी इस बात की जानकारी दें कि उनकी बेटी को कमिश्नर द्वारा नोटिस दी गई है। खुलासा हुआ है कि आपकी बेटी जो गोवा में एक रेस्टोरेंट चलाती हैं, वहां पर शराब परोसने के लिए जो लाइसेंस बनवाया गया था, वह फर्जी तरीके से बनाया गया है?’

गोवा में स्मृति ईरानी की बेटी जोइश ईरानी द्वारा चलाए जा रहे रेस्टोरेंट में शराब के लिए लाइसेंस फर्जी आधार पर लिया गया था। इसके लिए गोवा के एक्साइज कमिश्नर ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। स्मृति की बेटी पर आरोप है कि उन्होंने जिस व्यक्ति के नाम पर शराब का लाइसेंस बनवाया था, उसकी मौत 2021 में ही हो गई थी। उसके बावजूद स्मृति ईरानी की बेटी के रेस्टोरेंट का लाइसेंस रिन्यू कर दिया गया था। इसी आधार पर कांग्रेस प्रवक्ता अलका लांबा ने स्मृति ईरानी से सवाल किया है।

कांग्रेस प्रवक्ता अलका लांबा ने आगे सवाल किया कि हम जानना चाहते हैं, जिस व्यक्ति की मृत्यु 17 मई 2021 को हो गई थी। उसके नाम से ही 22 जून 2021 को लाइसेंस प्राप्त किया। देश यह जानना चाहता है कि क्या आपने अपनी कुर्सी और सत्ता का दुरुपयोग कर के ऐसा काम किया है? आप हमें बताइए कि फर्जी लाइसेंस बनवाकर रेस्टोरेंट चलवाने में, आपने अपनी बेटी की मदद की है या नहीं?

कांग्रेस प्रवक्ता ने अपनी सोशल मीडिया हैंडल पर लिखा कि स्मृति इरानी जी, देश जानना चाहता है। क्या आप सवालों का जवाब देंगी या सवालों से भागेंगी? क्या यह सच है कि आपकी बेटी ने फर्जीवाड़ा कर, एक मरे हुए व्यक्ति के नाम से गोवा में शराब परोसने का लाइसेंस हासिल किया। जिस पर उन्हें एक्साइज कमिश्नर ने नोटिस भेजा है। अलका लांबा ने अपनी ट्वीट के साथ स्मृति ईरानी और भाजपा के ट्विटर हैंडल को भी टैग किया है।

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने अपने सोशल मीडिया हैंडल के जरिए लिखा कि तो इस खबर के मुताबिक केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की बेटी जोईश ईरानी ने ‘बार लाइसेंस’ एक मृतक के नाम पर जारी कराया। फर्जी दस्तावेज का इस्तेमाल तो कानूनन अपराध है। अवैध लाइसेंस के लिए कारण बताओ नोटिस जारी हुआ है, पर मीडिया में इतना सन्नाटा क्यों है भाई? जानकारी के लिए बता दें कि सोशल मीडिया की रिपोर्ट को साझा करते हुए लोग कई तरह के कमेंट कर रहे हैं। वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की ओर से इस विषय पर कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई है।

Related Articles

Back to top button