नई दिल्ली

अवैध शोभायात्रा के दौरान जहांगीरपुरी में हुई हिंसा में अब मनी लॉन्ड्रिंग का एंगल, ED ने दर्ज किया केस, अंसार की होगी जांच ….

नई दिल्ली। दिल्ली के जहांगीरपुरी में अवैध हनुमान शोभायात्रा में हुई हिंसा मामले में प्रवर्तन निदेशालय की भी एंट्री होने जा रही है। खबर है कि ईडी ने हिंसा से जुड़े मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज कर लिया है। खास बात है कि दिल्ली पुलिस ने मामले के मुख्य साजिशकर्ता अंसार के खिलाफ जांच के लिए ईडी को पत्र लिखा था। जहांगीरपुरी में 16 अप्रैल को हिंसा हो गई थी।

रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि ईडी ने अवैध हनुमान शोभायात्रा के दौरान जहांगीरपुरी हिंसा से जुड़े मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज कर लिया है। सूत्रों के अनुसार ईडी अधिकारी केवल अंसार ही नहीं, बल्कि अन्य लोगों की भी पीएमएलए के तहत जांच करेंगे। उन्होंने बताया कि दिल्ली पुलिस ने अंसार और जहांगीरपुरी हिंसा में उसकी भूमिका को लेकर दस्तावेज दाखिल किए थे। इन्हें देखने के बाद ईडी ने FIR के आधार पर PMLA केस दर्ज कर लिया है।

ईडी यह जांच करेगी कि अंसार या अन्य को किसी व्यक्ति या संगठन फंड मिला है या नहीं, जिसका इस्तेमाल अवैध हनुमान शोभायात्रा में के दौरान जहांगीरपुरी हिंसा में हुआ हो। वहीं, अधिकारी अंसार और अन्य आरोपियों की बैंक और संपत्ति की जानकारी भी खंगालेंगे।

जांचकर्ताओं के अनुसार, मोहम्मद अंसार अवैध हनुमान शोभायात्रा के दौरान जहांगीरपुरी हिंसा मामले में कथित तौर पर मुख्य साजिशकर्ता है और उसका पुराना आपराधिक रिकॉर्ड भी है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के आदेश पर दिल्ली पुलिस ने अंसार और चार अन्य लोगों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगा दी है। फिलहाल, क्षेत्र में पुलिस सुरक्षा तैनात है। संभावना जताई जा रही है कि जल्दी ही क्षेत्र में हालात समान्य हो सकते हैं।

Related Articles

Back to top button