Breaking News

बिहार में परिवर्तन : JDU के नए अध्यक्ष RCP सिंह होंगे, नीतीश कुमार का बड़ा दांव …

पटना । बिहार से इस वक्त एक बड़ी खबर आ रही है। सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह को जदयू का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया है।

आरसीपी सिंह आईएएस कैडर के सेवानिवृत पदाधिकारी भी हैं। साथ ही काफी दिनों से जदयू संगठन को मजबूत करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर रहे हैं। खबर है कि नीतीश कुमार ने ही जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में खुद इसके संकेत दिए हैं।

राजनीतिक जानकारों का मानना है कि हाल ही में संपन्न हुए बिहार विधानसभा चुनाव में जदयू के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद से ही कयास लगने शुरू हो गए थे कि आने वाले कुछ दिनों में पार्टी के अंदर बड़ा उलटफेर होगा। बता दें कि विधानसभा चुनाव में जदयू को 43 तो भाजपा को 74 सीटें मिली हैं। वहीं जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शुरू होने से पहले पार्टी को अरुणाचल प्रदेश में बड़ा झटका लगा, जहां जदयू के सात में से छह विधायक भाजपा में शामिल हो गए।

अरुणाचल प्रदेश में भाजपा के बाद जदयू दूसरी सबसे बड़ी पार्टी थी। अप्रैल, 2019 में हुए विधानसभा चुनाव में जदयू अकले मैदान में उतरा था। जदयू ने 15 सीटों पर चुनाव लड़ा और सात पर जीत हासिल की। चार पर वह दूसरे तो तीन पर तीसरे नंबर पर रहा था। वहीं एक सीट पर जदयू चौथे नंबर पर था। 60 विधानसभा सीटों वाले प्रदेश में भाजपा को 41, एनपीईपी को पांच और कांग्रेस को चार सीटें मिली थी। इस तरह जदयू वहां दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बनी। प्रदेश की राजधानी ईटानगर में भी जदयू की जीत हुई थी। हालांकि, दूसरी बड़ी पार्टी रहने के बाद भी जदयू ने विपक्ष में बैठने के बजाय सरकार को बाहर से समर्थन दिया था।

वहीं रविवार को जदयू नेता संजय झा ने कहा कि अरुणाचल प्रदेश में हमारे विधायक समर्थन दे रहे थे, इसके बाद भी क्यों तोड़ा, ये मंथन का विषय है। विरोधी निशाना साध रहे, इसके अलावा उनके पास क्या काम? वो सिर्फ सपना देखते रहें, बिहार में एनडीए सरकार पांच साल तक चलेगी। इस पांच साल में किसी के लिए कोई संभावना नहीं है। वहीं, बैठक में भाग लेने से पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री अली अशरफ फातमी ने बताया कि अरुणाचल में जो हुआ, वो बहुत दुखद है। बैठक में हिस्सा लेने के लिए आए श्रावण कुमार ने अरुणाचल के मुद्दे पर कहा कि कभी खुशी, कभी गम का दौर आता रहता है। जदयू पहले से इसका सामना करती रही है। हर स्थिति से हमारा दल निपट लेगा। आज की बैठक में सब मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

जदयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने अरुणाचल प्रदेश में जदयू के छह विधायकों के भाजपा में शामिल किये जाने की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि गठबंधन धर्म का पालन नहीं किया गया है। गठबंधन की खूबसूरती के लिये यह कार्य ठीक नहीं हुआ है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इस घटना से बिहार पर कोई असर नहीं होगा।

Check Also

सलमान खान का बड़ा फैसला- कोरोना से जंग में लगाई जाएगी फिल्म Radhe की पूरी कमाई …

नई दिल्ली । महामारी से जूझ रहे भारत में हाहाकार के हालात देखने को मिल …

error: Content is protected !!
Secured By miniOrange