Breaking News

कमरतोड़ महंगाई, बढ़ती बेरोजगारी, शराबखोरी, कोरोना महामारी बनी छत्तीसगढ़ के लिए चुनौती – JCCJ

रायपुर (गुणनिधि मिश्रा)। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के मुख्य प्रवक्ता अधिवक्ता भगवानू नायक कहा ने मोदी सरकार के 7 साल पूर्ण होने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार का 7 साल, देश बुरा हाल और निराशाजनक रहा है। इन 7 वर्षों में छत्तीसगढ़ राज्य के साथ केंद्र सरकार ने सौतेला व्यवहार किया है। छत्तीसगढ़ के ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुदृढ करने वाली वाली मनरेगा योजना के अंतर्गत छत्तीसगढ़ के लगभग 30 लाख मजदूर लाभान्वित होते है। 20219-20 में 71 करोड़ का बजट था, वर्ष 2020-2021 में केंद्र सरकार के द्वारा इस योजना में 15 कटौती किया गया।

छत्तीसगढ़ की सबसे बड़ी समस्या नक्सलवाद की नक्सल फण्ड 65 प्रतिशत कमी किया और जबकि महाराष्ट्र और उत्तरप्रदेश जहाँ नक्सल मूवमेंट कम है वहाँ अधिक राशि दी गई है, धान का कटोरा छत्तीसगढ़ के किसानों को बोनस न देना, नक्सल प्रभावित छत्तीसगढ़ के साथ सौतेला व्यवहार किया है। इसके अतिरिक्त जानलेवा कोरोना, कमरतोड़ महंगाई, बढ़ती हुई बेरोजगारी ने छत्तीसगढ़ की जनता का बुरा हाल कर रखा है जिसके लिए राज्य के सरकार के साथ ही केंद्र की सरकार भी जिम्मेदार है। छत्तीसगढ़ ने 11 लोकसभा सीट में से भाजपा को नौ सांसद दिए फिर छत्तीसगढ़ के साथ सौतेला व्यवहार हुआ है।

भगवानू नायक ने कहा देश के सामने सबसे बड़ी चुनौती कोरोना मामले में देश सरकार की अदूरदर्शी सोच और अतिउत्साह से मोदी सरकार पूरी तरह फेल हो गई। जहाँ देश के नागरिकों को जीवन रक्षक कोरोना वैक्सीन लगाने और दूसरी लहर से बचाने की तैयारी सरकार को करनी थी वहीं मोदी सरकार टीका उत्सव मनाते हुए विदेशों को टीका भेज रही थी और बंगाल के चुनाव की तैयाती कर रही थी। देश में बेड, वेंटिलेटर, इंजेक्शन, अस्पताल स्वास्थ्य सुविधाओं के कारण देश में लाखों लोग कोरोना बीमारी में मारे गए।

चुनाव पूर्व मोदी ने हवाई चप्पल पहनने वालों को हवाई यात्रा करवाने का सपना दिखाया था लेकिन जब लॉकडाउन के पहले लहर से देश में यही हवाई चप्पल पहनने वाले मजदूरों को ट्रेन तक नसीब सैकड़ों किलोमीटर अपने घर की ओर रवाना हुए सैकड़ों मजदूरों सड़कों में दम तोड़ दिए। छत्तीसगढ़ के भी सैकड़ों मजदूरों को अपने घर तक आने में कई तकलीफें उठानी पड़ी। दूसरी तरफ दुनिया में वाहवाही लूटने के लिए मोदी सरकार ने प्रवासियों को हवाई जहाज से भारत लेकर आई यह देश के गरीब मजदूरों के साथ सबसे बड़ा सौतेला व्यवहार था।

भगवानू नायाक ने भाजपा और मोदी की वकालत करने वाले स्वामी बाबा रामदेव को आड़े हाथों लेते हुए कहा देश में बढ़ती हुई पेट्रोल डीजल क मूल्य की वृद्धि पर रोक लगाने के लिए , विदेशों से कालाधन वापसस लाने के लिए भी भाजपा को वोट के पक्ष में मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए वोट मांगते फिरते थे और सभी विपक्षी पार्टी का विरोध करते थे। आज जब पेट्रोल की मूल्य 100 रुपया से अधिक हो गई है, 7 साल में कालाधन का एक रुपया नहीं आया, न महंगाई कम हुई ऐसे समय मे बाबा रामदेव सामने क्यूँ नहीं आते, क्यूँ मोदी सरकार का विरोध नहीं करते है।

 

error: Content is protected !!