लखनऊ/उत्तरप्रदेश

दूध गर्म करते समय गैस रिसाव से 5 झुलसे, बचाने की कोशिश करने वाले समेत 3 की मौत …

जौनपुर। महाराजगंज के केवटली गांव में गुरूवार की सुबह घरेलू गैस सिलेंडर के रिसाव से बड़ा हादसा हो गया। दूध गर्म करते समय आग लगने से पति-पत्नी और उनके दो बच्चों समेत पांच लोग झुलस गए। घटना से परिवार में कोहराम मच गया। लोगों ने किसी तरह से आग पर काबू पाया। सूचना पर पहुंची पुलिस और स्थानीय लोगों की मदद से झुलसे हुए लोगों को अस्पताल पहुंचाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद डाक्टर ने पांचों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जहां तीन लोगों की मौत हो गई। क्षेत्रीय विधायक रमेश भी अस्पताल पहुंचे हैं।

जानकारी के अनुसार केवटली निवासी अखिलेश विश्वकर्मा की 28 वर्षीय पत्नी नीलम अपने छप्पर वाले घर में दूध गर्म कर रही थीं। छप्पर में उसके दो बच्चे 5 वर्षीय शिवांश व 3 वर्षीय युवराज और पति अखिलेश (30) सो रहे थे। इसी दौरान सिलेंडर की पाइप से गैस का रिसाव हो रहा था।

सकी जानकारी नीलम को नहीं हो पाई। उसने दूध गर्म करने के लिए जैसे ही गैस चूल्हा का रेग्यूलेटर चालू कर माचिस जलायी वैसे ही आग लग गई। आग ने फौरन विकराल रुप धारण कर लिया। आग पूरे छप्पर में लग गयी। इसमें नीलम के अलावा परिवार के अन्य सभी सदस्य जलने लगे। चीख पुकार सुन आसपास के लोग एकत्र हो गए।

अखिलेश के बड़े भाई 32 वर्षीय सुरेश ने छप्पर में घुसकर लोगों बचाने का प्रयास किया। इससे वह भी झुलस गया। ग्रामीणों की मदद से किसी तरह सबको बाहर निकला। सूचना पर पहुंची पुलिस स्थानीय लोगों की मदद से स्थानीय सीएचसी ले गई। जहां प्राथमिक उपचार के बाद डाक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। परिवार को बचाने की कोशिश करने वाला सुरेश, अखिलेश की पत्नी नीलम और बेटे शिवांस की मौत हो गई।

Related Articles

Back to top button