भगवान राम के मंदिर शिलान्यास अवसर पर बांटे जाएंगे एक लाख 11 हजार डिब्बों में देशी घी के लड्डू

अयोध्या। रामनगरी अयोध्या में पांच अगस्त को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के भूमि पूजन तथा शिलान्यास की तैयारियों के बीच में प्रसाद भी तैयार कराया जा रहा है। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच में भले ही भव्य मंदिर के भूमि पूजन तथा शिलान्यास में सीमित संख्या में लोग आमंत्रित है, लेकिन प्रसाद भरपूर मात्रा में तैयार कराया जा रहा है।

श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर के निर्माण के भूमिपूजन के बाद प्रसाद वितरण की भी जोरदार तैयारी है। इसके लिए अयोध्या के विभिन्न मठ व अखाड़ों में देशी घी के लड्डू बनाए जा रहे हैं। स्टील के एक लाख ग्यारह हजार डिब्बों में देशी घी के लड्डू प्रसाद के रूप में वितरित होंगे। यहां पर प्रसाद स्टील के डब्बे में रखकर अतिथियों के साथ मंदिरों और भक्तों को वितरित किया जाएगा।

मणिराम दास छावनी के साथ ही हंस देवरहा बाबा के भक्त इस काम में लगे हैं। राम मंदिर के शिलान्यास समारोह से पहले मणि राम दास छावनी में लड्डू बनाने की तैयारी चल रही है। पांच अगस्त को यहां पर 1,11,000 डिब्बों में प्रसाद के रूप में लड्डू प्रदान किया जाएगा।

पीएम नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे। पांच अगस्त को होने वाले राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए बड़े स्तर पर तैयारियां चल रही हैं। भगवान के भोग के लिए मणिराम दास छावनी में बड़ी मात्रा में लड्डू तैयार किए जा रहे हैं। इसके बाद देवराहा हंस बाबाजी के सेवक भी बड़ी तैयारी कर रहे हैं।

अवतारी पुरुष माने जाने वाले देवराहा बाबा के उत्तराधिकारी देवरहा हंस बाबा की ओर से एक लाख 11 हजार लड्डू बनवाया जा रहा है। यहां मणिराम दास छावनी सेवा ट्रस्ट के परिसर में बड़ी संख्या में प्रसाद के डिब्बे तैयार करने में कारीगर लगे हैं। यहां तीन प्रकार के डिब्बों में प्रसाद पैक हो रहा है। पांज, 11 और 21 पीस की क्षमता वाले स्टील के डिब्बों में लड्डू रखे जा रहे है।

इनको पांच अगस्त को यहां राम मंदिर भूमि पूजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के हाथों रामलला को भोग चढ़ाया जाएगा। देवराहा हंस बाबा की ओर से देशभर में सभी धाॢमक स्थलों को राम मंदिर भूमि पूजन अनुष्ठान का प्रसाद भेजा जाएगा।

देवराहा हंस बाबा के सेवक तुषार ने बताया कि राम मंदिर निर्माण से देश के करोड़ों राम भक्तों की आस्था जुड़ी है। कोरोना वायरस के कारण नियमों की प्रतिबद्धता के चलते लाखों लोग दिव्य अनुष्ठान में शामिल नहीं हो पा रहे हैं। देवराहा हंस बाबा की ओर से भूमि पूजन के अनुष्ठान का प्रसाद सभी को पहुंचाया जाएगा।

पीएम मोदी के पांच अगस्त को अयोध्या आगमन से पहले एक बार फिर सीएम योगी आदित्यनाथ दो अगस्त को तैयारी परखेंगे। उनके साथ इस बार डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा भी रहेंगे। संत-महात्माओं के साथ बैठक करने के अलावा सीएम तथा डिप्टी सीएम यहां पर पीएम मोदी की सुरक्षा को लेकर भी बैठक करेंगे।