उतराखंड

लिफ्ट देने के बहाने गाड़ी में बैठाया, सुनसान मकान में 2 महिलाओं से गैंगरेप; एम्स से इलाज कराकर लौट रही थी महिलाएं …

देहरादून। एम्स से इलाज करवाकर घर लौट रही दो महिलाओं से गिरिडीह में गैंगरेप का मामला सामने आया है। घटना शुक्रवार देर रात की है। इस शर्मनाक वारदात में बोलेरो चालक समेत चार शामिल हैं। चारों ने महिलाओं को लिफ्ट देने के बहाने बोलेरो में बिठाया फिर रास्ते में सुनसान मकान में जबरदस्ती की। दुष्कर्म के दौरान एक महिला की हालत बिगड़ गयी। इसके बाद दोनों को बेंगाबाद के बदवारा पतरो नदी पुल के समीप उतारकर भाग गए। उस वक्त सुबह के तीन बज रहे थे।

स्थानीय लोग जब सुबह नदी की ओर गए तो दोनों पर नजर पड़ी। उस वक्त एक महिला बेसुध थी जबकि दूसरी होश में थी। ग्रामीणों ने घटना की जानकारी बेंगाबाद पुलिस को दी। सूचना मिलने पर थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और दोनों को बेंगाबाद सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने जो महिला होश में थी उससे पूछताछ के बाद छापेमारी कर एक व्यक्ति को हिरासत में ले लिया। उससे पूछताछ की जा रही है।

वहीं इलाजरत महिला ने होश में आने के बाद पुलिस को बताया कि उन दोनों के साथ जबरदस्ती हुई है। हालांकि पुलिस का कहना है कि मेडिकल जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। एसडीपीओ अनिल कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। दोनों महिलाओं से पूछताछ हो रही है।

गिरिडीह गैंगरेप पीड़िता एक महिला ने पुलिस को बताया कि वे दोनों शुक्रवार को एम्स से इलाज के बाद घर लौटने के लिए पहले एक ऑटो में बैठी थीं। दोनों महिलाओं की मुलाकात अस्पताल गेट पर ही हुई थी। दोनों को गिरिडीह जिले में अलग-अलग क्षेत्र में जाना था। इसी बीच मूसलाधार बारिश होने लगी। ऑटो चालक बारिश के चलते जाने को तैयार नहीं हुआ।

दोनों महिलाएं ऑटो से उतरकर परेशान हाल में खड़ी थीं। इसी बीच वहां एक बोलेरो चालक आया। उसने राजधनवार के खोरीमहुआ तक छोड़ने का भरोसा दिया। उस वक्त रात के आठ बज रहे थे। भरोसे में आकर दोनों महिलाएं बोलेरो में बैठ गईं। चालक के अलावा तीन लोग पहले से बोलेरो में बैठे थे। दोनों महिलाएं बोलेरों की पीछे सीट पर बैठ गयीं। चलती बोलेरो में ही बदमाशों ने छेड़छाड़ शुरू कर दी।

फिर रास्ते में एक खंडहरनुमा मकान ले गये और वहां बारी-बारी से जबरदस्ती की। इसके बाद पतरो नदी पुल के समीप दोनों को उतारकर भाग गए। मौके पर पहुंचे बेंगाबाद प्रभारी प्रदीप कुमार ने बताया कि पुलिस के वरीय पदाधिकारियों के मार्गदर्शन के अनुसार घटना की जांच हो रही है।

Related Articles

Back to top button