Breaking News

किसान आंदोलन के समर्थन में पहुंची शाहीन बाग की दादी पुलिस हिरासत में …

नई दिल्ली। कृषि कानून में संशोधन की मांग को लेकर पंजाब और हरियाणा से आए किसानों का आंदोलन समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है। आज शाहीन बाग आंदोलन से जुड़ी दादी को पुलिस ने दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर गिरफ्तार कर लिया। केंद्र सरकार बैठक के लिए तैयार होने की बात कह रही है मगर मुद्दे पर अभी तक बात नहीं बनी है।

केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब और हरियाणा से आए हजारों किसानों का पिछले पांच दिनों से हल्ला बोल जारी है। देश की राजधानी दिल्ली की सीमा पर हजारों किसान पिछले पांच दिनों से धरना पर डटे हैं और आज उनके प्रदर्शन का छठा दिन है। इस बीच केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे।

किसान संगठनों के नेताओं को कोविड-19 महामारी एवं सर्दी का हवाला देते हुए तीन दिसंबर की जगह आज यानी मंगलवार को बातचीत के लिए आमंत्रित किया है ये बातचीत दोपहर 3 बजे विज्ञान भवन में होनी है और किसान नेता इसके लिए कूच कर चुके हैं। केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ उनका यह धरना सोमवार को पांचवें दिन में प्रवेश कर गया। इन कानूनों के बारे में किसानों को आशंका है कि इससे न्यूनतम समर्थन मूल्य समाप्त हो जाएगा। किसानों के प्रदर्शन की वजह से सिंघु और टिकरी बॉर्डर बंद है, वहीं गाजीपुर बॉर्डर पर ठोस बैरिकेडिंग की गई।

किसानों के प्रदशर्न में शामिल होने शाहीन बाग की दादी (बिलकिस दादी) भी पहुंचीं। दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर से दिल्ली पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है। इससे पहले उन्होंने खुद को किसान की बेटी बताकर आंदोलन में शामिल होने का ऐलान किया था।

कृषि कानूनों के लेकर बीते 5 दिनों से आंदोलन कर रहे किसानों के नेता अब विज्ञान भवन की ओर निकल गए हैं। यहां सरकार ने उन्हें बातचीत के लिए आमंत्रित किया है।

हरियाणा: निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान ने मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व वाले हरयाणा सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया। उन्होंने कहा, “किसानों पर किए गए अत्याचारों के मद्देनजर मैं वर्तमान सरकार को दिया अपना समर्थन वापस लेता हूं।

किसान आंदोलन को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पर हुई केंद्रीय मंत्रियों की बैठक खत्म। इस बैठक में केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह और कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर शामिल थे। बैठक से निकलते तोमर।

बीते 6 दिनों से पंजाब-हरियाणा समेत अन्य जगहों के किसान दिल्ली के बॉर्डर पर डटे हैं। इस बीच केंद्र सरकार की ओर से भी किसानों को मनाने की कवायद तेज हो गई है। अभी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पर केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह और कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की मौजूदगी में एक बैठक हो रही है। बता दें कि आज तीन बजे सरकार और किसानों के बीच भी विज्ञान भवन में बैठक होगी।

 

Check Also

बीजेपी ने दिया गौशालाओं में ऑक्सीमीटर और थर्मल स्कैनर लगाने का आदेश, हर जिले में बनेगी हेल्प डेस्क …

लखनऊ । कोविड-19 महामारी के कारण उपजे विषम हालात के बीच उत्तर प्रदेश की योगी …

error: Content is protected !!
Secured By miniOrange