रायपुरछत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में केंद्रीय आयकर विभाग की रेड: स्टील व पावर प्लांट से जुड़े कारोबारियों के 10 ठिकानों पर दस्तावेज खंगाल रही टीम …

रायपुर। छत्तीसगढ़ में केंद्रीय आयकर विभाग की टीम ने कई बड़े स्टील और पावर प्लांट से जुड़े कारोबारियों के यहां छापा मारा है। केंद्र से आई आयकर विभाग की अलग-अलग टीमें सुबह 6 बजे से उद्योगों के संचालक, उनसे जुड़े कारोबारियों के रायपुर, कोरबा और रायगढ़ जिलों के घर और दफ्तरों में दस्तावेजों को खंगाल रहे हैं। केंद्रीय आईटी टीम के अफसरों ने सभी का फोन जब्त कर लिया है।

दफ्तरों में किसी को आने और जाने भी नहीं दिया जा रहा है। टीम में 50 से ज्यादा लोग शामिल हैं। केंद्रीय आईटी के छापे से प्रदेश में हड़कंप मच गया है। केंद्रीय आयकर विभाग की टीम अभी कुछ बता नहीं रही है। देर शाम तक अपडेट आने की संभावना है।

मिली जानकारी के मुताबिक ग्रेविटी फेरस और धनकुंड स्टील के मालिक धीरज सुराना, भवानी मोल्डर्स के सुनील अग्रवाल और निर्माण टीएमटी के मालिक राजेश तोला के रायपुर, कोरबा, रायगढ़ और खरोरा के दफ्तरों में आईटी की रेड पड़ी है। रायपुर के मोवा स्थित लक्सोरा, फरिश्ता कॉम्प्लेक्स और वॉलफोर्ट सिटी में भी आईटी की टीम दस्तावेजों की जांच कर रही है।

बताया जा रहा है कि आईटी की टीम लंबे समय से इन कारोबारियों पर नजर रख रही थी। बुधवार सुबह 10 से अधिक दफ्तरों और घरों में एक साथ दबिश दी गई है। आईटी के इस छापे में बड़ी कर चोरी का मामला सामने आने की संभावना है।

रायगढ़ जिले के पूंजीपथरा स्थित सुनील इस्पात में आयकर टीम का सर्वे जारी है। कोरबा जिले में भी स्टील कारोबारी के दफ्तरों में जांच चल रही है। आईटी की रेड पड़ते ही स्टील कारोबारियों में हड़कंप मच गया है। कारोबारियों द्वारा आईटी रिटर्न में भारी गड़बड़ी की बातें सामने आ रही है।

जांच के दौरान दफ्तरों और घरों के बाहर सशस्त्र बल भी तैनात है। कार्रवाई की पूरी जानकारी देर शाम तक मिलने की संभावना जताई जा रही है। वहीं विभागीय सूत्रों का कहना है कि यह कार्रवाई आयकर की केंद्रीय टीम कर रही है। इसमें संभवत: कोलकाता रीजन के अधिकारी शामिल हैं।

Related Articles

Back to top button