कंगना बनाम सरकार …

2

फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत अपने बेबाक बयानों के कारण इन दिनों सुर्खियों में है। एक लड़की होकर भी निडरता से लगभग हर सामाजिक मुद्दों पर अपने खुले खयालात रखकर सच्चाई का पर्दाफाश कराने की मुहिम चलाती है तो क्या गलत करती है।

जब से सुशांत सिंह राजपूत का निधन हुआ है कंगना ने लगातार सोशल मीडिया पर बॉलीवुड में होने वाली गुटबाजी और परिवारवाद के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। वहीं अब सुशांत के मामले में ड्रग्स वाली बात सामने आते ही कंगना रनौत ने एक बार फिर इंडस्ट्री के भद्दे चेहरे को बेनकाब किया है। कंगना ने ट्वीट करके यह खुलासा किया है कि उन्हें भी ड्रग्स दिया गया था। कंगना ने बताया कि इंडस्ट्री में ड्रग्स का कैसे इस्तेमाल किया जाता है।अगर सही ढंग से जाँच पड़ताल कि जाएं तो कई चेहरे बेनकाब हो सकते है। इस मामले में जिस तरह से कंगना को घेरा जा रहा है या यूँ कहे कि दबाया जा रहा है उस हिसाब से शायद इस ड्रग वाले मामले में बड़ी से बड़ी हस्तियाँ जुड़ी हुई लगती है। महाराष्ट्र सरकार की कोशिश क्यूँ रहती है सुशांत सिंह राजपूत के केस को दबाया जाए क्यूँ कंगना को धमकी दी जा रही है ।

और क्या गलत कहा की मुंबई पोक का हिस्सा लगता है मुंबई में जिस तरह से क्राइम पनप रहा है हर आम इंसान को डर घेरे रहता है। सुशांत जैसे सीधे और सामान्य इंसान को जिस तरह फंसाया गया, आत्महत्या करने पर मजबूर किया गया, एक हंसता खेलता लड़का साज़िश का भोग बन गया उस पर आवाज़ उठाने वाली कंगना को धमकी दी जा रही है। पुलिस जहाँ सरकार के हाथ का खिलौना बन गई है उस राज्य के बारे में और क्या कहेंगे।

कंगना और महाराष्ट्र सरकार के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई है। कंगना ने दावा किया है कि उन्हें मुंबई न आने कि धमकी दी गई है। इस पर कंगना ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से कर दी थी। सुशांत सिंह राजपूत के मौत के मामले में कंगना शुरू से हीं मुंबई पुलिस पर सवाल खड़े कर रही है। वैसे पूरा देश चाहता है सुशांत को इंसाफ़ मिले कंगना की मांग कहाँ गलत है।

संजय राऊत की धमकी पर कंगना रनौत ने कहा किसी के बाप का नहीं है महाराष्ट्र तो क्या गलत कहा जय हिंद बोलते है हम। पूरा भारत एक-एक भारतीय का है। कोई कैसे किसीको धमकी देकर कहीं आने-जाने से रोक सकता है।

कंगना रनौत ने ट्वीट भी किया कि मैं देख रही हूं कई लोग मुझे मुंबई वापस न आने की धमकी दे रहे हैं, इसलिए मैंने तय किया है कि 9 सितंबर को मुंबई आऊंगी। मैं मुंबई एयरपोर्ट पर पहुंचकर टाइम पोस्ट करूंगी, किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले। अगर कंगना के इस बयान पर कुछ अनहोनी हुई तो ये पुलिस और सरकार की हार होगी। लोग सच के साथ खड़ा होने से करताएंगे। ये कैसी सामाजिक व्यवस्था है जो सच को दबाया जा रहा है।

ये लोकतंत्र देश है हर देशवासी को अपने पक्ष में बोलने का अधिकार है। संजय राऊत और अनिल देशमुख को कोई हक नहीं बनता कंगना की टिप्पणी पर कंगना को धमकी देने का।

 

    ©भावना जे. ठाकर