राष्ट्रीय सेवा योजना के माध्यम से युवा ला सकते हैं बौद्धिक और चारित्रिक समृद्धि –प्रो. आदिले

कोरबा (गेंदलाल शुक्ल) । आज के भौतिकवादी और वैज्ञानिक युग में मानव संसाधन को सही दिशा देकर ही समाज का समावेशी विकास संभव हो सकता है। इस कार्य के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना के माध्यम से युवा वर्ग को सही दिशा और सकारात्मक दिशा दी जा सकती है। इसलिए समाज से आह्वान करता हूं कि सभी आपस में मिलकर गंभीरता और सृजनात्मकता को समझें।

उक्त उद्गार अग्रसेन गर्ल्स कालेज कोरबा के रासेयो इकाई द्वारा आयोजित विशेष सात दिवसीय शिविर ग्राम अमापाली के पंचम दिवस के गोष्ठी कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि और वक्ता के रूप में प्रोफेसर प्यारेलाल आदिले विद्वान प्राचार्य जेबीडी कला एवं विज्ञान कालेज कटघोरा ने मुख्य अतिथि की आसंदी से व्यक्त किया। इस कार्यक्रम में अन्य अतिथि के रूप में ‘सेपवस’ के डायरेक्टर फिरत राम सारथी ने अपने उद्बोधन में कहा कि “संविधान का सही पालन करने से ही देश का सही विकास पूर्णता संभव है” अन्य अतिथि वक्ता रामायण पात्रे संकुल प्रभारी ने कहा कि “शिक्षा को मजबूत करके ही समाज में मजबूती आ सकती है”।

कार्यक्रम में अतिथियों का स्वागत क्रमशः स्वयंसेवक परवीन, निशा, सुजाता, रितु आदि ने पुष्पगुच्छ भेंट करके किया। कार्यक्रम का संपूर्ण संचालन रासेयो के कार्यक्रम अधिकारी प्रोफेसर गौरी वानखेड़े ने किया।

उल्लेखनीय है कि इस शिविर का प्रारंभ मुख्य अतिथि श्रीमती मीनाक्षी कैवर्त जनपद सदस्य, विशिष्ट अतिथि कुल सिंह कंवर सरपंच, ओमप्रकाश पारीक प्रधानपाठक, मुकुंद केशव उपाध्याय उच्च श्रेणी शिक्षक, डॉ सुमित कुमार मंडक प्राचार्य हसदेव एजुकेशन महाविद्यालय आमापाली की मौजूदगी में हुआ। समापन कार्यक्रम अध्यक्ष अग्रसेन शिक्षण समिति कोरबा, राजेंद्र कुमार अग्रवाल के मुख्य अतिथि एवं उपाध्यक्ष भगवान दास अग्रवाल विशिष्ट अतिथि की मौजूदगी में संपन्न होगा।

ज्ञातव्य हो कि इस शिविर के दौरान स्वयंसेवकों ने गांव की साफ-सफाई के लिए सार्वजनिक जगह नलकूप, धार्मिक स्थल, चौक-चौराहों तथा मंचों की साफ-सफाई की गई। जनजागरूकता के तहत स्वयंसेवकों ने गांव में स्वास्थ्य परीक्षण, शिक्षा एवं अन्य समाजोपयोगी, जनकल्याणकारी शासकीय योजनाओं का जानकारी ग्रामीणों को दिया।

विभिन्न गोष्ठी में क्रमशः ‘व्यक्तित्व विकास’ विषय पर मुकुंद केशव उपाध्याय, रासेयो में युवाओं की भूमिका’ विषय पर ओमप्रकाश पारीक, ‘सांप हमारे मित्र’ विषय पर अविनाश यादव, ‘अंधविश्वास उन्मूलन’ विषय पर दिनेश सिंह, ‘भ्रष्टाचार और देशभक्ति ‘पर कवि सम्मेलन में कृष्ण कुमार चंद्रा, मुकेश चतुर्वेदी, बलराम राठौर, हीरामणि वैष्णव, दिलीप अग्रवाल एवं सुश्री पुष्पा शांडिल ने भाग लिया।

‘महिला सशक्तिकरण एवं राष्ट्रीय सेवा योजना’ पर उपेंद्र सिंह कवर पंचायत विभाग अंबिकापुर ने दूरभाष से व्याख्यान प्रस्तुत करते हुए कहा कि “नारी सशक्त होगी तभी समाज सशक्त होगा और इस हेतु सर्वप्रथम नारियों को समान भाव और दृष्टिकोण से देखना होगा और उन्हें सशक्त बनाना होगा। यह सब शिक्षा के माध्यम से ही संभव है”।

“आदर्श समाज एवं राष्ट्र निर्माण में युवाओं की भूमिका” विषय पर प्रोफेसर प्यारेलाल आदिले प्राचार्य ने विस्तारपूर्वक बातचीत किया। “भारतीय संविधान एवं मानवाधिकार” विषय पर ‘ के डायरेक्टर फिरत राम सारथी ने गंभीरतापूर्वक बातचीत किया। “आर्थिक प्रबंधन एवं युवा शक्ति” पर मनोज कुमार गुप्ता ‘समय प्रबंधन ‘विषय पर एम के रात्रे गणित के व्याख्याता, नरवा-गरवा-घुरवा और बारी ‘विषय पर जेके साहू हिंदी के व्याख्याता आदि उद्बोधन करेंगे।

यह शिविर विभिन्न समूह में विभाजित कर संपन्न किया जा रहा है। प्रत्येक समूह के लीडर क्रमशः कु रितु गिल, शिखा कैवर्ट, श्रुति सिंह, तमन्ना श्रीवास, किरण श्रीवास एवं वनिता सीमा बखला के द्वारा संपन्न हो रहा है। इस शिविर में ग्रामीण जन बढ़-चढ़कर भाग ले रहे हैं।