Breaking News

शिक्षा और साहित्य के क्षेत्र में सक्रिय रहीं सुधारानी शर्माँ ….

मुंगेली (अजीत यादव) । सुधारानी शर्मा ने शिक्षा, साहित्य, एवं समाज सेवा, तीनों ही क्षेत्रों में मुंगेली जिले का मान बढ़ाया है। एक शिक्षिका, समाजसेवी,  कवयित्री, के रूप में इनका कार्य प्रशंसनीय है ।

समय-समय पर उनके द्वारा किए गए कार्यों की जानकारी मिलती रहती है ,अभी कोरोना महामारी के भीषण काल में भी इन्होंने अपने कार्यों को भलीभांति निभाया तथा, एक जिम्मेदार नागरिक होने का कर्तव्य निभाया, कोविड-19 में लॉकडाउन लगते ही इन्होंने स्कूली शिक्षा का कार्य ऑनलाइन शुरू कर दिया था। बच्चों की पढ़ाई को जारी रखा, बच्चों को बाल मनोवैज्ञानिक तरीके से, कक्षा में रुचिकर, वातावरण देकर उनकी रूचि के अनुसार, सामग्री उपलब्ध करा कर बच्चों को पढ़ाया, विषय से संबंधित पाठ, और त्योहार सभी की प्रस्तुति की, विषय संबंधित छोटा-छोटा वीडियो भी बनाया, जिसे बच्चों ने बहुत पसंद किया, मेला, खिलौने वाला, आकृति, आदि से बच्चों का ध्यान अपनी ओर आकृष्ट किया। साहित्यिक क्षेत्र में ऑनलाइन हैंड राइटिंग कंपीटीशन, भजन गायन का कार्यक्रम,  करवा कर महिलाओ, और बच्चों को भी मनोरंजक पल प्रदान किए।

ऑनलाइन काव्य पाठ, कविता,  आलेख, आदि के द्वारा अनेक मंचों से पुरस्कृत होकर सम्मान प्राप्त किया। शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने पर इन्हें शून्य निवेश नवाचार, कबाड़ से जुगाड, तथा ऑफलाइन एवं ऑनलाइन कक्षा सफल संचालन करने पर प्रशंसा पत्र, प्रशस्ति पत्र से सम्मान प्राप्त हुआ। विकासखंड लोरमी से विकास खंड शिक्षा अधिकारी  डी एस राजपूत एवं उनकी शिक्षा की कोर कमेटी द्वारा चार बार उन्हें सम्मानित किया जा चुका है, आदर्श शिक्षक, उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान, से सम्मानित सुधारानी शर्मा को शिक्षा कला साहित्य अकादमी छत्तीसगढ़, ने सम्मानित किया।

error: Content is protected !!