Breaking News

गुलेरिया बोले- बाहर से टीके मंगाए जाएंगे, अगले 2 महीने में दूर हो जाएगी वैक्सीन की किल्लत …

नई दिल्ली। भारत में कोरोना की दूसरी लहर के बी वैक्सीन की किल्लत ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। वैक्सीन निर्माता कंपनियों से प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए बातचीत जारी है। इस बीच दिल्ली स्थित एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि करीब दो महीने में देश में टीके बड़ी मात्रा में उपलब्ध हो जाएंगे, क्योंकि वैक्सीन बनाने वाली कंपनियां अपने विनिर्माण संयंत्र खोलना शुरू कर देंगी और वैक्सीन की खुराक उपलब्ध होगी। उन्होंने दूसरे देशों से भी वैक्सीन मंगाने की बात कही है।

डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा, ”अधिक से अधिक विनिर्माण संयंत्रों के द्वारा कोविशील्ड, कोवैक्सिन और स्पुतनिक की वैक्सीन का निर्माण भारत में ही किया जाएगा। स्पुतनिक ने निर्माण के लिए भारत में कई कंपनियों के साथ करार किया है। भारत बायोटेक और एसआईआई द्वारा नए संयंत्र स्थापित किए जा रहे हैं। जुलाई-अगस्त तक हमारे पास बड़ी मात्रा में खुराक उपलब्ध होगी।”

शुक्रवार को देश में कोरोना संक्रमण के 326,123 नए मामले सामने आए हैं, जो इस महीने यानी मई में सबसे कम है। वहीं महामारी से मरने वालों की संख्या 3879 रही। वर्ल्डोमीटर के आंकड़ों के मुताबिक, राहत की बात है कि इस महीने कोरोना के रोजाना आने वालों मामलों में सबसे कम केस शुक्रवार को ही आए हैं। इससे पहले 10 मई को 3 लाख 29 हजार नए केस आए थे। महाराष्ट्र, दिल्ली, कर्नाटक समेत कई अन्य राज्यों में कोरोना के मामलों में लगातार कमी देखने को मिल रही है। भारत में फिलहाल कोरोना वायरस के कुल 24,372,243 केस हैं। अब तक देश में 266,229 लोग जान गंवा चुके हैं। हालांकि अच्छी बात ये है कि दो करोड़ से अधिक लोग कोरोना को हरा भी चुके हैं। देश में कुल 20,426,323 लोग रिकवर हो चुके हैं। अभी देश में एक्टिव केसों की संख्या 3,679,691 है।

error: Content is protected !!