Breaking News

शिवराज सिंह चौहान का बड़ा बयान- उपचुनाव के बाद खुद को मानेंगे पर्मानेंट सीएम …

भोपाल (सुरभि शर्मा ) । एमपी के सीएम चौहान ने कहा- उपचुनाव जीतने के बाद ही अपने आपको परमानेंट सीएम मानेंगे। दरअसल मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रविवार को सुवासरा सीट से खड़े हो रहे भाजपा प्रत्याशी हरदीपसिंह डंग के समर्थन में सीतामऊ पहुंचे थे।

[img-slider id="25744"]

जहां पर उन्होंने खुद को टेंपरेरी चीफ मिनिस्टर संबोधित करते हुए कहा कि हरदीपसिंह डंग के जीतने के बाद ही वे अपने आपको परमानेंट सीएम मानेगे और सभी जन हितैषी योजनाओं को लागू करेंगे।

इसी चर्चा के दौरान कांग्रेस सरकार और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर भी निशाना साधा। इसके साथ यह भी कहा कि फिलहाल कोरोना संक्रमण के चलते मध्यप्रदेश की अर्थव्यवस्था प्रभावित हुई है।फिर भी इस दौर में जरूरी काम रुकने नहीं दिए जाएंगे।

इसके बाद मुख्यमंत्री चौहान ने कयामपुर सीतामऊ सिंचाई योजना व हैदरा करनाली डैम की स्वीकृति की घोषणा की।उनका कहना था कि वह जनता के बीच में रहने वाले सेवक हैं।और यह भी कहा के कमलनाथ एयरकंडीशंड कमरों में बैठकर सरकार चलाते रहते थे।

इसी के साथ ही कैबिनेट मंत्री हरदीपसिंह डंग ने कहा कि उन्हें शिवराज सिंह चौहान ने हर बार मान-सम्मान दिया तथा बहुत सी लाभकारी व करोड़ों की योजनाओं की सौगात भी दी, जबकि कमलनाथ ने उन्हें 15 सेकंड का समय भी नहीं दिया।

उन्होंने आगे बातें रखते हुए कहा कि आपने सवा साल में देखा ही होगा कि सरकार, सरकार में कितना फर्क होता है। वो सरकार तो फसल बीमा की प्रीमियम भी खा गए। जबकि मैंने तो सीएम बनने के आठ दिन के अंदर ही 2018 की प्रीमियम डिपोजिट की व 3100 करोड़ रुपए किसानों के अकाउंट में डलवाए।

हमारे हृदय में किसानों के लिए दर्द है, लेकिन अभी हम टेंपरेरी सीएम हैं। परमानेंट उपचुनाव जीतने के बाद ही अपने आपको परमानेंट मानेंगे। उन्होंने यह भी कहा के मुझे परमानेंट करने के लिए पड़ोस की बड़ौद तहसील में जाकर लोगों को बताएं और भाजपा को जिताएं।

यह सभी बातें मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने महिदपुर अनुभाग के अन्तर्गत आने वाले ग्राम इंदौख में कालीसिंध नदी पर 79 करोड़ से नवनिर्मित बैराज व सिपावरा, सगवाली मार्ग पर 704.09 लाख की लागत से हाई स्टैंडर्ड ब्रिज के लोकार्पण कार्यक्रम में कही।

Check Also

प्रणेता साहित्य संस्थान द्वारा आनलाइन पुस्तक लोकार्पण आयोजन और काव्य गोष्ठी …

बेंगलुरु। प्रणेता साहित्य संस्थान द्वारा 16 मई को वरिष्ठ साहित्यकार पुष्पा शर्मा कुसुम की पुस्तक …

error: Content is protected !!