Breaking News
.

बग्गा की गिरफ्तारी से भड़की भाजपा, ‘आप’ कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर जमकर किया तोड़फोड़ …

नई दिल्ली। पंजाबा पुलिस द्वारा दिल्ली भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा की गिरफ्तारी को लेकर जारी सियासी ड्रामेबाजी के बीच बीजेपी कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार शाम दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) दफ्तर के बाहर प्रदर्शन कर जमकर तोड़फोड़ किया। इसके बाद पुलिस ने भ्राजपा के कुछ लोगों को गिरफ़्तार किया है।

तजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी के विरोध में ‘आप’ कार्यालय की ओर कूच कर रहे दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता समेत सैकड़ों कार्यकर्ता पुलिस से भिड़ गए और बैरिकेड तोड़ दिए गए। इसके बाद पुलिस ने कुछ आदेश गुप्ता समेत कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया।

तजिंदर पाल बग्गा भाजपा की युवा शाखा के राष्ट्रीय सचिव हैं। वह दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता भी हैं। पंजाब पुलिस ने शुक्रवार को दावा किया कि बग्गा अपने खिलाफ दर्ज मामले की जांच में शामिल नहीं हुए थे। ‘आप’ के मुताबिक बीजेपी नेता ने पहले भी कोर्ट से राहत पाने की कोशिश की थी, लेकिन कोर्ट ने राहत देने इनकार कर दिया।

वहीं, बीजेपी नेता तजिंदर पाल बग्गा की गिरफ्तारी को लेकर दिल्ली और हरियाणा पुलिस ने पंजाब पुलिस के इस कदम के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है, जहां दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया है, वहीं हरियाणा पुलिस ने शुक्रवार दोपहर 36 वर्षीय नेता को मोहाली ले जाने वाली पुलिस की एक टीम को रोक दिया, जहां उसे अदालत में पेश किया जाना था।

बग्गा को पंजाब में दर्ज एक मामले में शुक्रवार सुबह पश्चिमी दिल्ली स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया गया था। आम आदमी पार्टी (आप) ने उन पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को धमकी देने का आरोप लगाया है। बग्गा की गिरफ्तारी की परिस्थितियों से अवगत कराने के लिए हरियाणा के पुलिस महानिदेशक के साथ एक पत्र और एफआईआर की एक कॉपी साझा की जा रही है। पंजाब पुलिस भी अपहरण के आरोपों से इनकार किया है।

हालांकि, बग्गा के परिवार ने कहा कि गिरफ्तारी के बारे में दिल्ली पुलिस को सूचित नहीं किया गया था। न्यूज एजेंसी एएनआई द्वारा शेयर किए गए फोटो में पंजाब पुलिस के कर्मियों को बग्गा के साथ दिल्ली पुलिस स्टेशन में बैठे हुए दिखाया गया है।

भाजपा नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने शुक्रवार दोपहर दिल्ली में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए गिरफ्तारी को “प्रतिशोध की राजनीति” बताया। सिरसा ने कहा कि यह देश एक संविधान से चलता है… अरविंद केजरीवाल की सनक और सोच से नहीं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि पंजाब पुलिस का यह कदम अरविंद केजरीवाल द्वारा राजधानी में बिजली सब्सिडी की घोषणा से जुड़ा है। साथ ही, उन्होंने कहा कि भगवंत मान और उनकी सरकार गुरुवार को हरियाणा से अलगाववादियों की गिरफ्तारी से जुड़े मुद्दे से ध्यान हटाना चाहती है। इन दोनों पर प्रतिक्रिया की उम्मीद की जा रही थी। पंजाब में खालिस्तानियों की वापसी पर उन्हें सवालों का सामना करना पड़ा होगा और इसलिए, ध्यान हटाने के लिए ‘आप’ ने उन्हें गिरफ्तार करने की साजिश रची।

भाजपा के दावों का पलटवार करते हुए ‘आप’ के नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि तजिंदर बग्गा ने पंजाब में हिंसा भड़काने के लिए ट्वीट किया; इसका मतलब है कि दिल्ली में भाजपा के नेता पंजाब में सांप्रदायिक हिंसा फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। पंजाब पुलिस राज्य में शांति बनाए रखने के लिए काम कर रही है। जनता देख रही है कि दिल्ली पुलिस और हरियाणा पुलिस ऐसे गुंडों को बचाने की कोशिश कर रही है।

error: Content is protected !!