Breaking News
.
योगासन करते हुए नरेंद्र मोदी.

योग साधक हैं नरेंद्र मोदी : सलाहकार ने बताया प्रधानमंत्री का योग शिड्यूल …

नई दिल्ली (पंकज यादव) । दुनियाभर में आज 7वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। योग दिवस के मौके पर भारत के अलग-अलग हिस्सों में कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। बता दें कि छह साल पहले संयुक्त राष्ट्र ने 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने का आह्वान किया था और देखते ही देखते दुनिया के तमाम देश इस मुहिम में शामिल हो गए। ऐसे में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम के निजी योग सलाहकार, एचआर नागेंद्र ने उन्हें ‘समर्पित योग साधक’ बताया है।

नागेंद्र ने बताया “यह जानकर बहुत खुशी हुई कि मोदी स्वयं एक समर्पित योग साधक हैं और इतने व्यस्त कार्यक्रम के बावजूद वे नियमित रूप से योग का अभ्यास करते हैं। अवर्तन ध्यान या चक्रीय ध्यान, जो मैंने सालों पहले सुना था उसे भी प्रधानमंत्री धार्मिक रूप से हर दिन करते हैं”। उन्होंने बताया कि इस ध्यान का सिद्धांत शरीर को उत्तेजित करना होता है। इसके बाद शरीर और मन को गहन विश्राम देना होता है।

21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में बनाने के प्रस्ताव का नेतृत्व करने के लिए मोदी की तारीफ करते हुए नागेंद्र ने कहा, “मोदी का योग के प्रति समर्पण इतना अधिक है कि भले ही वे दुनिया भर में यात्रा कर रहे हों, लेकिन वे अपनी योग दिनचर्या के लिए कुछ समय समर्पित करने से कभी नहीं चूकते।” नागेंद्र ने आगे खुलासा किया कि योग को लेकर मोदी का उद्देश्य केवल शारीरिक स्वास्थ्य को मजबूत करने वाले आसनों के अभ्यास तक ही सीमित नहीं है, बल्कि वे समग्र स्वास्थ्य और दिमाग को मजबूत करने पर भी ध्यान केंद्रित करते है”।

नागेंद्र में आगे कहा- वास्तव में, योग कोविड -19 संकट के समय में लोगों को इम्युनिटी बढ़ाने में मदद कर रहा है। उन्होंने कहा “महामारी ने हमें घर पर रहने, पारिवारिक संबंधों पर काम करने और उनके साथ अधिक समय बिताने का अवसर दिया है। हालांकि, इस क्वारंटाइन या आइसोलेशन ने दिमाग पर भी नकारात्मक प्रभाव डाला है। इसलिए, स्ट्रेस और डिप्रेशन जैसे मानसिक मुद्दों से निपटने में मदद करने के लिए घर पर योग का अभ्यास जरूरी है”। नागेंद्र ने सभी भी को “भक्ति योग, ज्ञान योग और कर्म योग, प्राणायाम, क्रिया और विश्राम तकनीक” जीवन में शामिल करने का सुझाव दिया।

 

error: Content is protected !!