Breaking News

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का ऐलान, साल 2021 के अंत तक देश में सभी लग जाएगा कोरोना वैक्सीन का टीका …

नई दिल्ली। प्रकाश जावड़ेकर नने कहा कि भारत में 2021 के अंत तक सभी लोगों का टीकाकरण हो जाएगा। उन्होंने कहा कि यदि राहुल गांधी को कोरोना वैक्सीन की चिंता है तो फिर उन्हें कांग्रेस शासित राज्यों की ओर देखना चाहिए, जहां बड़ी खामियां हैं। कांग्रेस शासित राज्य 1 मई से दिए गए कोटे को ले ही नहीं रहे हैं, जिनका इस्तेमाल 18 से 44 साल की आयु वाले लोगों के टीकाकरण के लिए किया जाना है। वहीं कोरोना संकट के दौरान सरकार के मैनेजमेंट में कमी रहने के आरोप का जवाब देते हुए जावड़ेकर ने टूलकिट का मुद्दा उठा दिया। बता दें कि बीजेपी ने पिछले दिनों कांग्रेस पर आरोप लगाया था कि वह एक टूलकिट के जरिए सरकार को घेरने की रणनीति पर काम कर रही है।

देश में हर शख्स को इस साल के अंत तक कोरोना वायरस का टीका लग जाएगा। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए शुक्रवार दोपहर को यह बात कही। उन्होंने राहुल गांधी के उस बयान पर जवाब देते हुए यह बात कही, जिसमें कांग्रेस नेता ने कहा था कि देश की 130 करोड़ आबादी में से अब तक 3 फीसदी लोगों को ही कोरोना के दोनों टीके लग पाए हैं। जावड़ेकर ने राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्हें कांग्रेस शासित राज्यों की तरफ देखना चाहिए, जहां टीकाकरण में खामियां है।

बता दें कि शुक्रवार को राहुल गांधी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीडिया से बात करते हुए केंद्र सरकार और पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला था। राहुल गांधी ने कहा था कि पीएम नरेंद्र मोदी की नौटंकी के चलते देश में कोरोना की दूसरी लहर बढ़ी है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी इवेंट मैनेजर हैं और वह एक समय में एक ही इवेंट पर काम करते हैं। उन्हें रणनीति तैयार करना नहीं आता। यही नहीं कांग्रेस लीडर ने कहा कि देश में वैक्सीनेशन ही स्थायी हल है। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क जैसी चीजों से लंबी लड़ाई नहीं जीती जा सकती।

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने रोड मैप दिया है कि कैसे इस साल के अंत तक देश में कोरोना वैक्सीन के 216 टीकों का उत्पादन किया जाएगा। इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने पिछले सप्ताह कहा था कि इस साल के अंत तक देश की समूची वयस्क आबादी को कोरोना की टीके लग जाएंगे। यही नहीं उनका कहना था कि भविष्य में कोरोना के एक बार फिर से उभरने के खतरे को देखते हुए हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर को अपग्रेड किया जा रहा है। 21 मई को कोरोना की समीक्षा मीटिंग के दौरान उन्होंने कहा था, ‘देश में अगस्त से दिसंबर 2021 के दौरान कुल 216 करोड़ कोरोना टीकों की मैन्युफैक्चरिंग का उत्पादन किया जाएगा। वहीं इस साल जुलाई तक 51 करोड़ टीकों की खरीद की जाएगी।’

error: Content is protected !!