नई दिल्ली

सिख के काटे केश, पूर्व ग्रंथि का दावा- काटना चाहते थे गर्दन, गलती से उन्हें पकड़ा …

अलवर। अलवर में बाइक पर सवार होकर जा रहे पूर्व ग्रंथि गुरुबक्स सिंह को अज्ञात लोगों ने रोककर मारपीट कर दी। गंभीर हालत में गुरूबक्स सिंह को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसका इलाज चल रहा है। मामले की सूचना मिलते ही रामगढ़ पुलिस मौके पर पहुंची और पूरे मामले की जांच में जुट गई।

घायल पूर्व ग्रंथि गुरुबक्स सिंह ने बताया की बदमाशों द्वारा फोन पर अपने आका जुम्मा नाम के व्यक्ति से बात की गई। उसे बताया की यह तो पुजारी है अब क्या करना है। जिसपर जुम्मा नाम के व्यक्ति ने कहा की पुजारी है तो गर्दन मत काटो इसके केश काट दो। अपने आका की बात मानते हुए बदमाशों ने मेरे केश काट दिए। इसके बाद उन्होंने मेरे साथ मारपीट की और चले गए। पूर्व गुरूग्रंथि के साथ हुई घटना के बाद क्षेत्र के लोगों ने रोष जताया है। साथ ही आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ने का पुलिस को अल्टीमेटम दिया गया है।

पूर्व गुरुग्रंथि के साथ हुई घटना के बाद अलवर एसपी तेजस्वीनी गौतम ने अलावड़ा गांव के पास घटनास्थल का मुआयना किया। साथ ही देर रात रामगढ़ थाने में मामला दर्ज कराया गया है। एसपी ने कहा की पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए टीमें बना दी हैं, जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा।

मामले पर उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने सरकार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा की राजस्थान में आतंकवादी संगठनों का जाल फैला हुआ है। जो लगातार राजस्थान को अपना निशाना बना रहे हैं। उदयपुर का मामला अभी शांत भी नही हुआ है और अलवर में सिख समाज के व्यक्ति के केश काट दिए जाते हैं। अलवर में हुई घटना शर्मनाक है। केश काटने के बाद अभी तक आरोपियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं हुई। इससे बड़ी सरकार की क्या नाकामी हो सकती है।

राजेंद्र राठौड़ यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा की भरतपुर में अवैध खनन को रोकने के लिए बुड्‌ढों के द्वारा धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। कई दिन तक सरकार नही चेती और हारकर एक बुड्‌ढे को आत्मदाह करना पड़ा। जिसके बाद सरकार ने मामले में संज्ञान लिया। अगर समय रहते ये सब कार्यवाही कर लेते तो बुड्‌ढे को यह नहीं करना पड़ता। आत्मदाह करने वाले बुड्‌ढे का गुरुग्राम में इलाज चल रहा है।

Related Articles

Back to top button