मध्य प्रदेश

एक रात पहले पति के साथ विवाद हुआ, सुबह कुएं में मिले महिला और दो बच्चों के शव

खरगोन। मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के बेड़िया में कुएं में एक महिला मजदूर और उसके दो बच्चों के शव मिलने से सनसनी फैल गई। पति ने जब पत्नी और बच्चों की लाश देखी तो खुद भी कीटनाशक पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की, लेकिन मौके पर मौजूद लोगों ने उसे पकड़ लिया। घटना रविवार को बेड़िया की मिर्ची मंडी के समीप मर्दालिया क्षेत्र की बताई जाती है। महिला मिर्ची मंडी में अपने पति के साथ मजदूरी करती थी। साथ ही घटना स्थल से 100 मीटर की दूरी पर एक झोपड़ी में रहती थी।

बताया जाता है एक रात पहले शराब पीने की बात पर महिला का अपने पति से झगड़ा भी हुआ था। इसमें हैरानी की बात यह है कि इतनी बड़ी घटना के बावजूद वह मौके से फरार हो गया। फिलहाल पुलिस इस घटना को संदिग्ध मानते हुए  यह आत्महत्या है या हत्या दोनों एंगल पर जांच कर रही है। बेड़िया थाना के एसआई सुदामा मोरे के अनुसार सुबह करीब 9 बजे स्थानीय लोगों ने एक बच्चे की लाश को कुएं में देखा। इसकी जानकारी पुलिस को दी। मौके पर जब पुलिस पहुंची, तो लाश के साथ दो जोड़ बच्चों की चप्पल एवं कुएं के पास महिला की मोजड़ी भी पड़ी हुई थी। इससे शक हुआ की पानी में और भी लाश हो सकती हैं। इसी दौरान राहुल नाम के युवक ने शव की पहचान कार्तिक पिता बलिराम (3 वर्ष) के रूप में की। साथ में यह भी बताया कि वह मृतक बच्चे का मौसा है। पुलिस ने जब कुएं में तलाश की तो कुएं से कार्तिक की मां कोमलबाई और भाई लक्की (5) की लाश भी निकली।

घटना की जानकारी लगने पर कार्तिक का पिता बलिराम भी मौके पर पहुंचा और पत्नी एवं बच्चों की लाश देखकर पास में ही पड़ी कीटनाशक उठाकर पीने लगा। जिसे वहां मौजूद लोगों ने पकड़कर रोक लिया।  इसके बाद बलिराम वहां से अपने साड़ू राहुल की बाइक लेकर तुरंत फरार हो गया। पुलिस ने तीनों शवों को बेड़िया के शासकीय अस्पताल भेजा, जहां से पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

महिला का भाई बोला- शराब पीने को लेकर हुआ था विवाद

जानकारी लगने पर मृतक कोमलबाई का भाई महेश पिता सुखराम निवासी मोहद (थाना भीकनगांव) पहुंचा। उसने बताया कि बलिराम मूलतः खंडवा थाना क्षेत्र के पिपलोद के पास गांधवा का रहने वाला है। दोनों बच्चे और पत्नी के साथ पिछले दो वर्षों से वह मिर्च मंडी के पास रहकर मजदूरी का कार्य करता था। बलीराम की शराब पीने की लत को लेकर पति-पत्नी के बीच अक्सर विवाद होता था। शनिवार शाम को भी दोनों के बीच विवाद हुआ था। इसकी जानकारी कोमलबाई ने फोन पर महेश को दी थी। इस पर महेश ने फोन पर ही बलीराम को समझाया भी था। उसकी इसी लत ने बहन और दोनों भांजों की जान ले ली। वहीं, पुलिस भी घटना को संदिग्ध मान रही है और यह हत्या है या आत्महत्या दोनों एंगल से जांच कर रही है। एसआई सुदामा मोरे के मुताबिक महिला के पति की तलाश की जा रही है, वहीं पीएम रिपोर्ट का इंतजार है। मामला संदिग्ध है, जांच के बाद ही सही जानकारी सामने आ पाएगी।

Related Articles

Back to top button