Breaking News

टूलकिट में फंसे रमन सिंह कानून का सामना करने के बजाए कोविड प्रोटोकॉल लॉकडाउन का कर रहे उल्लंघन, विनोद तिवारी मिले एसपी से, सौंपा ज्ञापन …

रायपुर (गुणनिधि मिश्रा) । कांग्रेस  नेता विनोद तिवारी ने एक बयान जारी कर बताया कि  टूलकिट मामले में बयान दर्ज करने आज सिविल लाइन थाने ने पूर्व मूख्यमंत्री रमन सिंह को तलब किया था।लेकिन सैकड़ो कार्यकर्ताओ की भीड़ लेकर पहूच गए। मामले में कांग्रेस नेता विनोद तिवारी ने कहा कि 15 साल सरकार चलाने वाले पूर्व मूखमंत्री को कोरोना काल के प्रोटाकॉल का ध्यान रखना चाहिए। अगर वे गलत नही है तो उन्हें कानून से भी भय नही खाना चाहिए।पूर्व सीएम को भय है इसलिए वे भीड़ लेकर पहूच गए है।

राष्ट्रीय स्तर के नेता है एनएसजी जैसे महत्वपूर्ण संस्था की सुरक्षा भी मिली है,ऐसे में रमन सिंह की भी जवाबदारी बनती है कि वे कानून का सम्मान करें। विनोद तिवारी ने भय के इस भीड़ के खिलाफ उचित कार्यवाही की मांग किया है।तिवारी ने कहा कि भारी मशक्कत के बाद मुखिया भूपेश के अथक प्रयासों से कोरोना पर काबू पाने की ओर राजधानी आगे बढ़ रहा है ।

ऐसे में यह भीड़ कोरोना काल मे कितना घातक हो सकता है इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है।तिवारी ने कहा कि कोरोना फैलती है,मुश्किलें खड़ी होती है तो यही लोग है जो प्रोटाकल कि दुहाई देते फिरते है ।

विनोद तिवारी ने रमन सिंह एवं अन्य पर FIR करने हेतु पुलिस अधीक्षक श्री अजय यादव को लिखित शिकायत प्रस्तुत कर कार्यवाही की माँग की है आवेदन में क़हा की जाँच अधिकारियों पर दबाव बनाने की नियत से डाक्टर रमन सिंह द्वारा योजनाबद्ध तरीक़े से थाने में भीड़ इकट्ठी की गई थी ताकि जाँच को प्रभावित किया जा सके अतः दोषियों पर विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया जावे।

 

 

error: Content is protected !!