छत्तीसगढ़बिलासपुर

300 गांवों में घूमी पुलिस तब पकड़े गए कोटा के पंप में फायर करने वाले लुटेरे शेख इरशान, शेख मुस्तफा व अब्दुल खान ….

बिलासपुर । कोटा की घटना के पहले 27 दिसंबर को दो शेख इरशान व शेख मुस्तफा ने कोनी क्षेत्र के तुर्काडीह अंडरब्रिज के पास स्टेशन मास्टर के सिर पर कट्टा अड़ाकर बाइक, रुपए पैसे व मोबाइल छीनकर भाग निकले थे। उसी बाइक को उन्होंने काले रंग से पेंट कर दिया था और नंबर प्लेट को निकाल दिया था। इसी बाइक से लूटपाट के इरादे से कोटा क्षेत्र में गए। स्टेशन मास्टर ने बाइक की पहचान की है।

12 दिन पहले कोटा के पुष्कर पेट्रोल पंप में गोली चलाकर लूटपाट का प्रयास करने वाले तीनों नकाबपोशों को पकड़ने में पुलिस को कामयाबी मिली है। ये वहीं बदमाश थे, जिन्होंने कोनी क्षेत्र में ड्यूटी पर जा रहे स्टेशन मास्टर पर कट्टा अड़ाकर लूटपाट की थी। वारदात के दिन पहने जैकेट से उनकी पहचान हुई। इनमें एक राजस्थान का रहने वाला है। उसी ने धौलपुर से कट्टा उपलब्ध कराया था। घटना 3 जनवरी को लोरमी कोटा मार्ग पर स्थित पुष्कर पेट्रोल पंप में हुई थी। रात करीब 8 बजे बाइक सवार तीन नकाबपोश लुटेरों ने फायर कर कैशियर से लूटपाट की कोशिश की थी। कट्टे में दूसरी गोली नहीं डाल पाने के कारण उन्हें भागना पड़ा था।

इस बीच पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों के पहने जैकेट व घटना में उपयोग किए गए बाइक को सोशल मीडिया में अपलोड करने से इसका नतीजा सामने आया। मुखबिर ने जांच में जुटी पुलिस को बताया कि उस तरह का ही जैकेट सरकंडा अटल आवास मुरूम खदान निवासी ऑटो चालक अब्दुल इरशान (25) पहनता है। वह मूलत: ग्राम दुलकोट, थाना नियानगंज जिला धौलपुर राजस्थान रहने वाला है। सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी कर उसे हिरासत में लिया और पूछताछ की तो उसने अपराध करना स्वीकार किया।

इस घटना में उसके साथ शेख मुस्तफा (25) व अब्दुल खान (26) शामिल थे। ये दोनों भी संजय नगर तालापारा के रहने वाले थे और वर्तमान में मुकाम मुरूम खदान अटल आवास में रहते थे। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार किया। आरोपियों के कब्जे से कट्टा, जिन्दा कारतूस, खाली खोखा, बाइक, काले रंग का पेंट, नंबर प्लेट, डिक्की, मोबाइल, जैकेट, गमछा जब्त किया।

पूछताछ करने पर पता चला कि आरोपी अब्दुल इरशान मूल रूप से राजस्थान के धौलपुर का रहने वाला है। वह अपने रिश्तेदार शेख मुस्तफा के घर आता था। इसी दौरान वह अब्दुल इरशान के साथ धौलपुर जाकर कट्टा ले आया था और इसके बाद तीनों आरोपियों ने मिलकर लूट की योजना बनाई।

Related Articles

Back to top button