Breaking News

IAS एसोसिएशन ने भी नहीं दिया थप्पड़बाज कलेक्टर रणबीर शर्मा का साथ, कहा- सिविल सेवकों में होनी चाहिए सहानुभूति …

बिलासपुर। सूरजपुर के ‘थप्पड़बाज’ कलेक्टर रणबीर शर्मा के व्यवहार आईएएस एसोसिएशन ने भी की कड़ी निंदा की है। रविवार को सूरजपुर के कलेक्टर का कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन करने के आरोप में कथित तौर पर एक व्यक्ति को थप्पड़ मारने का वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है। एसोसिएशन ने कहा है कि यह सेवा और सभ्यता के मूल सिद्धांतों के खिलाफ था।

संघ के तरफ से जारी बयान में कहा गया है, “सिविल सेवकों में सहानुभूति होनी चाहिए। उन्हें हर समय समाज में एक विवेकपूर्ण व्यवहार करना चाहिए, विशेष रूप से इन कठिन समय में।”

क्लिप के बारे में पूछे जाने पर, एक अधिकारी ने कहा कि सूरजपुर जिले में कलेक्टर और पुलिस के एक दल ने उस व्यक्ति को रोका, जहां COVID-19 का मुकाबला करने के लिए लॉकडाउन लगाया गया है। वीडियो में, आदमी को कलेक्टर को अपने मोबाइल फोन पर कागज का एक टुकड़ा और कुछ दिखाते हुए देखा जा सकता है। इसके बाद वह युवक से मोबाइल लेते हैं और उसे जमीन पर फेंक देते हैं। इसका विरोध करने पर वह उसे थप्पड़ भी मार देते हैं। अधिकारी का यह वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया।

आपको बता दें कि शर्मा एक भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के छत्तीसगढ़ कैडर (2012 बैच) के अधिकारी हैं। आईएएस एसोसिएशन ने ट्वीट कर कहा, “आईएएस एसोसिएशन कलेक्टर सूरजपुर, छत्तीसगढ़ के व्यवहार की कड़ी निंदा करता है। यह अस्वीकार्य है और सेवा और सभ्यता के मूल सिद्धांतों के खिलाफ है। सिविल सेवकों को सहानुभूति होनी चाहिए और हर समय समाज को एक उपचारात्मक स्पर्श प्रदान करना चाहिए, खासकर इस कठिन समय में।”

शनिवार को जारी एक बयान में कलेक्टर रणबीर शर्मा ने कहा, “आज सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल है जिसमें मुझे एक व्यक्ति को थप्पड़ मारते हुए दिखाया गया है जो लॉकडाउन के दौरान बाहर था। मैं आज के व्यवहार के लिए ईमानदारी से माफी मांगता हूं। मेरा कभी भी अनादर करने का कोई इरादा नहीं था।”

उन्होंने कहा, “इस महामारी की स्थिति में, पूरे छत्तीसगढ़ राज्य के साथ सूरजपुर जिला अपूरणीय क्षति का सामना कर रहा है। राज्य सरकार के हम सभी कर्मचारी इस समस्या से निपटने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं।” शर्मा ने कहा कि वह व्यक्ति बाइक चला रहा था और तेज गति से जा रहा था। कलेक्टर ने कहा, “आदमी ने अधिकारियों के साथ भी दुर्व्यवहार किया।”

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने थप्पड़बाज कलेक्टर रणबीर शर्मा को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है। भूपेश बघेल ने ट्वीट कर यह जानकारी दी और पीड़ित युवक व उसके परिवार से खेद व्यक्त किया। उन्होंने ट्वीट में लिखा, “सोशल मीडिया के माध्यम से सूरजपुर कलेक्टर रणबीर शर्मा द्वारा एक नवयुवक से दुर्व्यवहार का मामला मेरे संज्ञान में आया है। यह बेहद दुखद और निंदनीय है। छत्तीसगढ़ में इस तरह का कोई कृत्य कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। थप्पड़बाज कलेक्टर रणबीर शर्मा को तत्काल प्रभाव से हटाने के निर्देश दिए हैं।”

error: Content is protected !!