Breaking News

कंगना रनौत की पहले फजीहत फिर मुसीबत, किसान को शाहीन बाग वाली ‘दादी’ बताने पर लीगल नोटिस जारी कर माफी मांगने की मांग …

नई दिल्ली। हमेशा विवादों में रहने वाली कंगना रनौत की मुसीबत कम होने का नाम नहीं ले रही है। किसान आंदोलन से जुड़े एक ट्वीट को लेकर फजीहत झेलने के बाद अब कंगना रनौत की मुसीबत और बढ़ गई है। कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन को लेकर कंगना रनौत ने एक ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने एक महिला किसान आंदोलकारी को शाहीनबाग वाली ‘दादी’ बिलकिस बानो बता दिया था। अब इसे लेकर कंगना रनौत को पंजाब के एक वकील ने लीगल नोटिस जारी किया है और ट्वीट के लिए माफी की मांग की है।

पंजाब में ज़ीरकपुर के वकील ने अभिनेत्री कंगना रनौत को कानूनी नोटिस भेजकर अपने ट्वीट पर माफी मांगने की मांग की, जिसमें कृषि कानूनों के विरोध प्रदर्शन में एक बूढ़ी महिला को ‘बिलकिस दादी’ बताया गया था। बता दें कि कंगना ने दादी के नाम से जानी जाने वाली 90 वर्षीय बिलकिस बानो पर हमला करते हुए ट्वीट किया था, जिसे बाद में फेक पाए जाने पर उन्होंने डिलीट कर दिया।

कंगना ने एक ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा था, ‘हाहाहा…यह वही दादी हैं, जिन्हें टाइम मैग्जीन में भारत के सबसे पावरफुल लोगों में शामिल किया था। यह तो 100 रुपये में अवेलेबल हैं। पाकिस्तान के पत्रकारों ने इंटरनेशनल पीआर को भारत के लिए शर्मनाक तरीके से हायर कर लिया है। हमें अपने ऐसे लोग चाहिए जो हमारे लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आवाज उठा सके।।’

गौरतलब है कि बिलकिस बानो को शाहीनबाग की दादी भी कहा जाता है। वह नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान काफी लोकप्रिय हुई थीं। टाइम मैग्जीन ने उन्हें भारत के सौ सबसे ताकतवर लोगों की सूची में शामिल किया था। हालांकि, यह पहली बार नहीं है जब कंगना रनौत विवादों में रही हैं, इससे पहले भी वह मुंबई पर बयान को लेकर वह विवादों में रह चुकी हैं।

Check Also

मराठा आरक्षण और उस पर सरकार की परेशानी …

मुंबई (संदीप सोनवलकर) । महाराष्ट्र की उध्दव ठाकरे सरकार इन दिनों मराठा आरक्षण के सवाल …

error: Content is protected !!