मध्य प्रदेश

हाई कोर्ट इंदौर के एडवोकेट विवेक सिंह स्टेट बार कौंसिल ऑफ मध्यप्रदेश के निर्विरोध चेयरमैन चुने गए

40 वर्षों बाद इंदौर बार का कोई सदस्य चेयरमैन के रूप में चुना गया

जबलपुर। प्रदेश के एक लाख से अधिक वकीलों का पंजीयन करने वाली तथा वकीलों की सबसे बड़ी संस्था मप्र राज्य अधिवक्ता परिषद में अध्यक्ष पद को लेकर चल रही रस्साकसी रविवार को समाप्त हो गई। डॉ. विजय चौधरी का दो वर्ष का कार्यकाल समाप्त होने के बाद रविवार को 25 में से 16 सदस्यों ने सामान्य सभा की बैठक में उपस्थित होकर इंदौर के विवेक सिंह को अपना नया चेयरमैन चुना। वहीं, उपाध्यक्ष पद पर सर्वसम्मति से आरके सिंह सैनी को निर्वाचित किया गया। इसके साथ ही नियमानुसार तरीके से परिषद की पुरानी कमेटियों को भंग कर नई कमेटियों का पुनर्गठन भी कर दिया गया है।

परिषद की सामान्य सभा की बैठक में उपस्थित सदस्यगणों ने हाल ही में गत दिवस कार्यकारिणी द्वारा शैलेन्द्र वर्मा को अध्यक्ष बनाने की निंदा करते हुए उसे अवैधानिक बताया। उल्लेखनीय है कि मप्र राज्य अधिवक्ता परिषद में चेयरमैन डॉ. विजय कुमार चौधरी का दो वर्ष का कार्यकाल पूरा हो चुका था, जिस पर उन्होंने हाईकोर्ट में दायर याचिका वापस ले ली थी। इसके बाद दूसरे पक्ष ने कार्यकारिणी की बैठक कर शैलेन्द्र वर्मा को अध्यक्ष घोषित कर दिया था, जिसे अवैधानिक बताते हुए परिषद के अन्य सदस्यगणों ने सामान्य सभा की बैठक पर निर्णय लेने की बात कही थी। ज्ञात हो, मध्य प्रदेश हाई कोर्ट की इंदौर बेंच में पैरवी करने वाला कोई अधिवक्ता 40 वर्ष बाद इस महत्वपूर्ण पद पर आसीन हुआ है। नव निर्वाचित चेयरमैन विवेक सिंह वरिष्ठ अधिवक्ता स्व. जय सिंह के पुत्र हैं, जो 20 वर्ष तक स्टेट बार सदस्य रहे हैं। साथ ही स्टेट बार की विभिन्न कमेटियों में पदाधिकारी के अलावा बार कौंसिल ऑफ इंडिया में स्टेट बार प्रतिनिधि भी रहे हैं।

स्टेट बार कौंसिल के पूर्व चेयरमैन भोपाल निवासी अधिवक्ता डॉ. विजय कुमार चौधरी ने अपना कार्यकाल समाप्त होने के साथ ही नियमानुसार सामान्य सभा की बैठक बुलाई। इसके जरिये नये चेयरमैन के निर्वाचन की प्रक्रिया पूर्ण कराई। रविवार को जैसे ही स्टेट बार सामान्य सभा की बैठक शुरु हुई इंदौर के अधिवक्ता सुनील गुप्ता ने चेयरमैन पद के लिए अधिवक्ता विवेक सिंह के नाम का प्रस्ताव रखा। स्टेट बार के 16 सदस्यों ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया। इसी के साथ विवेक सिंह स्टेट बार के नये चेयरमैन निर्वाचित घोषित कर दिए गए। इसके साथ ही स्टेट बार के पूर्व वाइस चेयरमैन आरके सिंह सैनी को पुन: वाइस चेयरमैन चुन लिया गया। इसके अलावा उन्हें सात कमेटियों में भी महत्वपूर्ण पदों पर निर्वाचित किया गया है। अधिवक्ता सैनी जिला बार एसोसिएशन, जबलपुर के अध्यक्ष भी हैं।

5 सदस्यीय कार्यकारिणी समिति सहित अन्य समितियां गठित

सामान्य सभा में मौजूद चेयरमैन विवेक सिंह की अनुमति से पांच सदस्यीय कार्यकारिणी समिति की गठन किया गया, जिसमें जितेन्द्र शर्मा, डीएन पाठक, राजेश व्यास, डॉ. विजय कुमार चौधरी, राजेश पांडे को नियुक्त किया गया है। इसी तरह नामांकन समिति ‘ए’ में मनीष तिवारी, राजेश शुक्ला, आरके सिंह सैनी तथा नामांकन समिति ‘बी’ में प्रेमसिंह भदौरिया, राजेश व्यास व डीएन पाठक को नियुक्त किया गया है। वहीं, मनोनीत सदस्य के लिए प्रमोद ठाकरे को तथा अनुशासन समिति ‘बी’ में मनीष तिवारी व आरके सिंह सैनी निर्वाचित हुए। जबकि सदन में मनोनीत सदस्य के लिए मणिकांत शर्मा को स्वीकार किया गया। इंदौर खंडपीठ में अनुशासन समिति के लिए सुनील गुप्ता, डॉ. विजय कुमार चौधरी व मनोनीत सदस्य पर वरिष्ठ अधिवक्ता एलएन सोनी को चुना गया। वहीं, ग्वालियर के लिए जय प्रकाश मिश्रा, राजेश कुमार शुक्ला व मनोनीत सदस्य के लिए अधिवक्ता नवल गुप्ता को चुना गया। इसके साथ ही वित्त समिति, भवन समिति, पुस्तकालय समिति सहित अन्य समितियों का गठन भी किया गया।

Related Articles

Back to top button