मध्य प्रदेश

पूर्व राज्यपाल डॉ. अजीज कुरैशी ने सोनिया गांधी पर फेंका “पत्र बम”, लिखा- चापलूसों को तत्काल बाहर करो, मचा बबाल…

भोपाल। पूर्व राज्यपाल और मध्य प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ. अजीज कुरैशी ने सोनिया गांधी को एक चिट्ठी लिखी है। उनकी इस चिट्ठी पर सियासी बवाल मच गया है। दरअसल, उन्होंने सोनिया को लिखा है कि पार्टी को दरबारियों और चाटुकारों से मुक्त करें। उन्हें कोई पद न दें, वरना मैं प्रदेश कांग्रेस कार्यालय के बाहर धरना दूंगा, आमरण अनशन करूंगा। अपनी चिट्ठी में उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि ये सभी घटनाएं खेदजनक, चिन्ताजनक और दुर्भाग्यपूर्ण हैं।

पूर्व राज्यपाल डॉ. अजीज कुरैशी ने अपनी चिट्ठी में पूर्व केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद द्वारा राहुल गांधी के खिलाफ दिए गए बयान और कांग्रेस छोड़ने के निर्णय की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने चिट्ठी में लिखा है कि कांग्रेस ने जिन्हें सब कुछ दिया, जो लोग 40-50 साल तक हर सुविधा, लाभ, सम्मान प्राप्त करते रहे, उन्हें ऐसा निर्णय लेते हुए चुल्लूभर पानी में डूब मर जाना चाहिए था। कांग्रेस एक आंदोलन, एक क्रांति, एक विचार, एक संघर्ष, एक बलिदान, एक तपस्या, एक कुर्बानी, एक जज्बा, सेवा और मानवता का संरक्षण करने वाली संस्था का नाम है. इस पर अवसरवादियों के आने-जाने से कोई फर्क नहीं पड़ता।

अजीज कुरैशी ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और उनके नेतृत्व पर संपूर्ण विश्वास व्यक्त करते लिखा कि उनकी मेहनत, परिश्रम और ईमानदारी एक बार फिर प्रदेश में कांग्रेस का झंडा बुलंद करेगी। उन्होंने पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह की मेहनत और काम पर पूरा विश्वास व्यक्त करते हुए लिखा कि प्रदेश में केवल कमलनाथ और दिग्विजय सिंह दो ऐसे नेता हैं, जो मध्य प्रदेश कांग्रेस की तकदीर बदल सकते हैं। हालांकि, उसके लिए यह जरूरी है कि उनके आसपास रहने वाले दरबारियों, अवसरवादियों, चाटुकारों और दो नम्बर के कांग्रेसियों की फौज का सफाया किया जाए।

पिछले नगर पालिका, नगर पंचायत, नगर निगम, जिला पंचायत एवं जनपद पंचायत आदि के चुनाव में जिस तरह विधायकों के कहने पर टिकिट बांटे गए और उनका जो परिणाम हुआ वह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। उसी तरह जिला कांग्रेस कमेटियों के अध्यक्षों के नेतृत्व में जो नतीजे सामने आए वह भी निराशाजनक हैं। कुरैशी ने मांग की है कि जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षों को तत्काल प्रभव से अलग कर देना चाहिए। उसी तरह जिन-जिन विधायकों के कहने पर टिकिट बांटे गए थे उसका भी उनसे हिसाब लेना चाहिए।

इधर, बीजेपी ने कसा तंज

पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी द्वारा सोनिया गांधी को पत्र लिखने पर बीजेपी ने तंज कसा है. गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कुरैशी समेत बहुत से लोग हैं, जो कांग्रेस छोड़कर जाने वाले हैं। सिर्फ गिनती के चार लोग ही कांग्रेस और गांधी परिवार के पास बचने वाले हैं। वहीं, इस मामले पर प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष अजय सिंह यादव ने कहा कि कांग्रेस एक लोकतांत्रिक पार्टी है। यहां सभी कार्यकर्ताओं और नेताओं को अपनी बात रखने का पूरा अधिकार है। सभी की बातों पर ध्यान दिया जाता है, फिर कोई कार्रवाई की जाती है. आज कांग्रेस मजबूत स्थिति में है। कांग्रेस मध्य प्रदेश में 2023 के विधानसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत के साथ जीतेगी। 2024 में कांग्रेस की सरकार केंद्र में भी बनेगी।

Related Articles

Back to top button