मध्य प्रदेश

पूर्व बीजेपी नेता ने बिना अनुमति रैली निकाली, पुलिस की गाड़ी के आगे बम ब्लास्टल, पथराव में 6 पुलिसकर्मी गंभीर घायल …

भिंड। भाजपा से प्रीतम लोधी को निष्कासित करने के विरोध में मध्य प्रदेश के भिंड में लोधी समाज द्वारा निकाली जा रही विशाल रैली हिंसा में बदल गई. रैली के दौरान जमकर उपद्रव हुआ. रैली में मौजूद लोगों ने पुलिस पर लाठी-डंडे और पत्थरों से हमला कर दिया, जिसमें एक इंस्पेक्टर सहित तीन पुलिस जवान गंभीर रूप से घायल हो गए. जिन्हें बेहतर उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहीं, पुलिस वाहन के आगे एक बम विस्फोट भी हुआ. पुलिस ने हालात पर बमुश्किल काबू पाया, अब जांच में जुट गयी है.

ज्ञात हो कि प्रीतम लोधी द्वारा दिए गए ब्राह्मण कथा वाचकों के खिलाफ बयान के बाद भाजपा ने प्रीतम लोधी को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया था, जिसके चलते लोधी समाज आक्रोशित हो गया और प्रदेश में जगह-जगह शक्ति प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया जा रहा है. इसी कड़ी में गुरुवार को भिंड ज़िला मुख्यालय पर ज्ञापन देने के उद्देश्य से लोधी समाज ने विशाल रैली का आयोजन किया था, जिसमें रैली में शामिल लोगों ने जमकर उपद्रव किया।

 

रैली के दौरान अचानक शुरू हो गया उपद्रव

रैली जब भिंड के सुभाष तिराहे पर पहुंची तो रैली में शामिल लोगों ने अचानक उपद्रव शुरू कर दिया। स्थिति संभालने के लिए भारी संख्या में पुलिस बाल को बुलाया गया. अफरा-तफरी के माहौल में रैली में शामिल लोगों ने पुलिस पर ही पथराव कर दिया, जिसमें इन्स्पेक्टर मनोज राजपूत, प्रधान आरक्षक गजेंद्र सिंह सिकरवार और आरक्षक अभिषेक गुप्ता समेत पत्थर लगने से चार पुलिसकर्मी घायल हो गए, जिन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

एक इन्स्पेक्टर समेत चार पुलिस जवान घायल

पुलिस के अनुसार रैली में शामिल लोग हुड़दंग करते हुए आ रहे थे जिन्हें रोकने की कोशिश करने पर अचानक भीड़ ने पथराव कर दिया और पुलिस को घेर कर लाठी डंडों से भी हमला कर दिया. इस वजह से एक इन्स्पेक्टर समेत चार पुलिसकर्मी घायल हो गए. धमाका पास ही लगे एक सीसीटीवी कैमरे में क़ैद हो गया, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो में उपद्रवियों के साथ एक गाड़ी पर खड़े प्रीतम लोधी भी उपद्रव कराते दिख रहे हैं.

बिना अनुमति के निकाली गई थी रैली, वीडियो भी आया सामने

घटना के बाद से ही इलाक़े में तनाव की स्थिति बनी हुई है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि यह रैली पुलिस की बिना अनुमति के निकाली गई थी और पुलिस भी मान रही है. इस पूरे मामले में उपद्रवियों और रैली आयोजन कर्ताओं पर मामला दर्ज किया जाएगा. वहीं, इस घटना के बाद एक सीसीटीवी फूटेज भी सामने आया है जिसमें रैली के दौरान गुजर रही पुलिस की गाड़ी के आगे अचानक एक बम ब्लास्ट हो गया. पुलिस को स्थिति काबू पाने के लिए लाठी चार्ज और आंसू गैस के गोले छोडऩे पड़े.

कौन है प्रीतम लोधी

प्रीतम लोधी जी पूर्व सीएम उमा भारती के रिश्तेदार और वरिष्ठ पूर्व भाजपा नेता हैं। हाल ही में उनका ब्राह्मण विरोधी बयान सामने आया था, जिसके बाद बीजेपी के प्रदेश संगठन ने उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया था।

Related Articles

Back to top button