मध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश में 1296 कंपनियां होंगी बंद, डायरेक्टरों और कर्ताधर्ताओं को जारी किया नोटिस, सभी कंपनियों को बंद करने का नोटिस जारी …

भोपाल. कोरोना काल के दो साल बाद जब सभी तरह के कामकाज को रफ्तार मिल चुकी है। इसके बावजूद प्रदेश में 1296 कंपनियां ऐसी हैं, जो एक साथ बंद होने वाली हैं। इसकी वजह इन कंपनियों ने साल भर पूर्व कंपनी रजिस्ट्रार के पास पंजीयन कराया, लेकिन आज तक काम ही शुरू नहीं किया। इसके चलते इन कंपनियों को एक साथ बंद करने का नोटिस जारी किया गया है।

पंजीयन विभाग ने इन कंपनियों के डायरेक्टर को 30 दिन का समय दिया गया है, जिसमें वो फैसले के खिलाफ अपील कर सकते हैं। फैसले के खिलाफ कोई अपील नहीं करने वाले संचालकों की कंपनी बंद करने के साथ ही उनका रजिस्ट्रेशन भी रद्द कर दिया जाएगा। पंजीयन के बाद भी काम शुरू नहीं करने वाली ऐसी सभी कंपनियों की सूची एमसीए के पोर्टल पर अपलोड कर दी गई है। केंद्रीय कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय (एमसीए) के पोर्टल के मुताबिक अभी प्रदेश में 48 हजार से अधिक कंपनियां रजिस्टर्ड हैं। इन कंपनियों का कारोबार चल रहा है। इन कंपनियों को सीआइएन नंबर भी प्रदान किए गए हैं।

आरओसी ने जिन 1296 कंपनियों को नोटिस जारी किए हैं, उनमें से अधिकांश कंपनियां आयरन, स्टील, रीयल एस्टेट और नए स्टार्टअप से जुड़ी हैं। इन कंपनियों ने रजिस्ट्रेशन की तारीख से 6 माह में व्यापार शुरू करने का प्रमाण.पत्र नहीं लिया है और न ही रजिस्ट्रेशन के एक साल बाद भी काम शुरू नहीं किया है, इन्होंने कंपनी एक्ट के तहत 180 दिनों तक कोई भुगतान भी नहीं किया है। इस वजह से इन कंपनियों को सूची से हटाया जा रहा है।

Related Articles

Back to top button