Breaking News
.

हिरण का 40 किलो मांस के साथ दो शिकारी पकड़े गए, FIR दर्ज, पूछताछ में शिकारियों ने उगले कई राज …

रांची । झारखंड के बेतला वन प्रबंधन ने बीती रात अज्ञात शिकारियों के खिलाफ बरवाडीह पुलिस के सहयोग से सघन छापामारी अभियान चलाया। इस दौरान ग्राम अखरा से हिरण का मांस बनाते दो शिकारियों को रंगेहाथ धर-दबोचा गया।

इस संबंध में रेंजर प्रेम प्रसाद ने बताया कि बीते शनिवार को बेतला के जंगलों में अज्ञात शिकारियों द्वारा फंदा लगाकर हिरण का शिकार किए जाने की सूचना मिली थी। इस संदर्भ में वनकर्मियों की विशेष छापामारी टीम गठित कर क्षेत्र के विभिन्न गांवों में शिकारियों के संभावित ठिकानों पर सघन छापेमारी की गई। इसी दौरान ग्राम अखरा में मुन्ना परहिया को टोकरी में हिरण की मुंडी और टांगी के जरिए मांस का टुकड़ा बनाते रंगेहाथ पकड़ा गया।

मुन्ना की निशानदेही पर शिकार किए हिरण का मांस तौलकर बेचने वाले उसी गांव के अरविंद साव को खून सना तराजू के साथ गिरफ्तार किया गया। दोनों शिकारियों ने हिरण का मांस बेचने के अवैध कारोबार में करीब एक दर्जन लोगों की संलिप्तता बताई है।

रेंजर ने हिरण का शिकार करने में प्रयुक्त फंदा, कुल्हाड़ी, टोकरी में हिरण की मुंडी के साथ हिरण के करीब 40 किग्रा मांस और खून सना तराजू को जब्त करने की बात बताई। साथ ही दोनों शिकारियों समेत 12 अन्य के खिलाफ वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत अपराधिक प्राथमिकी दर्ज की गई। छापामारी टीम में रेंजर प्रेम प्रसाद, वनपाल उमेश दूबे, संतोष सिंह,वनरक्षी देवेंद्र देव, नवीन कुमार, सुनिता कच्छप, देवपाल भगत, गुलशन सुरीन, निरंजन कुमार, दीवाकर मिश्र आदि शामिल थे।

error: Content is protected !!