Breaking News
.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रामायण कॉन्क्लेव का उद्घाटन कर बोले- राम सब में, राम सबके हैं …

अयोध्या । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद प्रेसीडेंसीएल ट्रेन अयोध्या पहुंच गए हैं। यहां राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनका स्वागत किया। राष्ट्रपति के साथ देश की प्रथम महिला नागरिक सविता कोविंद, राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी हैं। राष्ट्रपति ने रामायण कॉन्क्लेव का शुभारंभ किया।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि राम सबके हैं और राम सब में हैं। उन्होंने कहा कि अयोध्या मानव सेवा का उत्कृष्ट केंद्र बने। शिक्षा और शोध का भी वैश्विक केंद्र बनाया जाए। उन्होंने कहा कि रामकथा के आदर्श का प्रचार प्रसार हो। समस्त मानवता एक ईश्वर की संतान है। श्री कोविंद ने कहा कि विश्व समुदाय और युवा पीढ़ी को राम कथा में निहित जीवन मूल्यों से जोड़ना चाहिए। रामायण में राम निवास करते हैं। वाल्मीकि ने कहा था जब तक पृथ्वी पर नदी और पर्वत रहेंगे रामकथा लोकप्रिय रहेगी।

रामकथा की लोकप्रियता विश्वव्यापी है। रामकथा के अनेक पठनीय रूप देश और विदेश में प्रचलित है। श्री कोविंद यहां राम कथा पार्क में आयोजित रामकथा कांक्लेव का शुभारंभ करने के बाद समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने पर्यटन विभाग की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिल्यान्यास भी किया।

इस दौरान लोक गायिका मालिनी अवस्थी ने शानदार अंदाज में गीतों की प्रस्तुति दी। पूरा माहौल भक्तिमय हो गया। कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों ने जय श्रीराम का जयघोष किया। अयोध्या धाम को पूरी तरह से सील किया गया। सभी एंट्री प्वॉइंट पर बैरियर लगाए गए। महामहिम 4 घंटे 10 मिनट अयोध्या में रहेंगे। 12 बजे से 1 बजे तक राम कथा पार्क रामायण कॉन्क्लेव के शुभारंभ कार्यक्रम में रहेंगे। 2 बजे से 3 बजे तक हनुमानगढ़ी और रामलला दर्शन पूजन करेंगे। और राम जन्मभूमि में वृक्षारोपण करने के बाद दोपहर 3:40 पर अयोध्या रेलवे स्टेशन वापस हो जाएंगे।

चारबाग रेलवे स्टेशन से रविवार सुबह 09: 40 बजे प्रेसिडेंशियल ट्रेन से महामहिम रामनाथ कोविंद अयोध्या के लिए रवाना हुए। इनके साथ राज्यपाल आंनदी बेन पटेल, रेल राज्य मंत्री दर्शना जरदोश, रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष सुनीत शर्मा, उत्तर रेलवे के जीएम आशुतोष गुंगल, डीआरएम एसके सपरा भी गए। रविवार सुबह 09: 28 बजे राष्ट्रपति का काफिला चारबाग रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद रेल राज्य मंत्री दर्शना जरदोश ने राष्ट्रपति को अयोध्या रेलवे स्टेशन का माॅडल दिया। वहीं राष्ट्रपति की पत्नी को इंजन का माॅडल दिया।

error: Content is protected !!