छत्तीसगढ़रायपुर

छत्तीसगढ़ में वीडियो वायरल हुआ कांग्रेस नेता ललित साहू का, गृहमंत्री और SP को दे रहा गालियां, कहा- मेरी गाड़ी रोकने की हिम्मत नहीं ….

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के एक नेता का गालीगलौज के डॉयलॉग से लबरेज वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में गालीबाज नेता खुद का नाम ललित साहू और प्रदेश कांग्रेस कमेटी का प्रदेश सचिव बता रहा है। इस वीडियो में कांग्रेस नेता कथित कांग्रेस कमेटी का प्रदेश सचिव ललित साहू अपने ही गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू और एसपी को गंदी-गंदी गालियां दे रहा है। पुलिस कर्मियों को धमकी व गाली देते हुए कह रहा है कि गृहमंत्री और एसपी में दम नहीं उनकी गाड़ी रोक सके। वीडियो वायरल होने के बाद बालोद के देवरी थाने में कांग्रेस के इस नेता के खिलाफ धारा 294, 186 और 353 अपराध दर्ज किया गया है। 

जानकारी के मुताबिक बालोद के पिनकानार पुलिस चौकी क्षेत्र में ललित साहू के ट्रैक्टर को पुलिस कर्मियों प्रमोद साहू व देवेंद्र साहू ने चेक पोस्ट पर जांच के लिए रोका था। वीडियो में बताया जा रहा है कि ट्रैक्टर चालक द्वारा यह बताने पर कि जलाउ लकड़ी है। आरक्षकों ने जांच के बाद जाने कह दिया। ट्रैक्टर रोकने की घटना ने कांग्रेसी नेता को ऐसा गुस्सा दिलाया कि जुबानी जमा खर्च में नेताजी अपना पैजामा उतार गए। पता नहीं नेताजी खुद को क्या समझ रहे थे कि आरक्षकों के सामने गृहमंत्री व एसपी तक को गंदी-गंदी गाली देने लगा। वह गृहमंत्री का नाम लेकर बीच सड़क गालियां दे रहा था और आरक्षक भी तमाशा देख रहे थे। ऐसी अमर्यादित भाषा का उपयोग तो विपक्ष के नेता भी न करें।

दरअसल पूरा मामला बालोद जिला के गिधवा गांव का है। 15 फरवरी को पिनकापार पुलिस चौकी के स्टाफ प्रमोद साहू ने ग्राम गिधवा गांव में एक लकड़ी लेकर आ रहे एक ट्रैक्टर को जांच के लिए रोका था। पिनकापार बाजार चौक में ड्यूटी कर रहे देवेंद्र साहू को फोन कर बुलाया। गाड़ी को जांच के लिए रोके जाने को लेकर ही बवाल खड़ा हो गया। ट्रैक्टर के चालक ने अपने मालिक को फोन कर मामले की जानकारी दी, जिसके कुछ देर बाद ही वहां सफेद रंग की कार से राजनांदगांव निवासी प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश सचिव ललित साहू मौके पर पहुंचे और पुलिस कर्मियों पर फायर हो गए। वह यह भी कह रहे हैं कि पिछले दिनों बताया था कि यह ट्रैक्टर उनके पिताजी का है। उसके बाद भी गाड़ी को रोक रहे हो।

अपनी राजनीतिक रसूख की सनक में ललित साहू ने सारी मर्यादा को तोड़ते हुए वर्दीधारी पुलिस जवानों के साथ जहां सरेराह जमकर गाली गलौच की, वहीं उन्होंने यह तक कह दिया कि दम हो तो एसपी को बोल दो गाड़ी को ले जाकर दिखाये। खाकी पर राजनीतिक धमक का रौब दिखाना था तो नेताजी ने अपने ही पार्टी के गृहमंत्री तक को नहीं बख्शा। वीडियो में ललित साहू आवेश में आकर यह भी कहते दिख रहे हैं कि गृहमंत्री में दम नहीं है जो ललित साहू की गाड़ी को रोक ले। पूछना तामृध्वज साहू से… वीडियो में बकायदा ललित साहू अपने पद और अपना मोबाइल नंबर पुलिस जवानों को बताकर SP को बता देने की धौंस भी दे रहा है।

कांग्रेस नेता वीडियो में अपनी रसूख का धौस दे रहा है। वह कह रहा है कि दारू बिक रहा है और सट्टा चल रहा है। वहां जाकर…. खुजाते हो…। सरकार मेरी है…। सत्ता मेरी है….। बदनामी मेरी होगी इसलिए कुछ नहीं बोल रहा हूं। टीआई मेरा पहचान का है, इसलिए छोड़ रहा हूं। राजनांदगांव में रहता हूं, लेकिन पूरे प्रदेश की खबर रखता हूं…। कहां-कहां सट्टा और दारू बिकता है बताऊं। गालीबाज नेता सरकार और पुलिस प्रशासन पर भी सवाल खड़े रहा रहा। खैर, राजनीति है जो न कराए सो कम है….। इधर बालोद एसडीओपी प्रतीक चतुर्वेदी ने कहा कि एसपी के आदेश पर मामले की जांच की जा रही है।

Related Articles

Back to top button