मध्य प्रदेश

कमलनाथ की इंदौर यात्रा के दौरान हुए विवाद से जुड़े हो सकते है बम धमाके की चिट्ठी के तार

राहुल गांधी के खालसा स्टेडियम में रुकने को लेकर भी बना हुआ है संशय

इंदौर। भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे राहुल गांधी को इंदौर में यात्रा के दौरान बम से उड़ाने की धमकी भरे पत्र को पुलिस पिछले दिनों खालसा कॉलेज में गुरु नानक जयंती के कार्यक्रम में कमलनाथ के पहुंचने पर हुए विवाद से भी जोड़कर देख रही है, क्योकि उसमें सिख विरोधी दंगों का जिक्र है। राहुल गांधी यात्रा के दौरान इंदौर में खालसा स्टेडियम में रुकने वाले है, लेकिन विवाद के बाद इस पर संशय बना हुआ है।

ज्ञात हो कि भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों को लेकर 10 दिन पहले पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ इंदौर आए थे। इस दौरान वे खालसा कॉलेज में गुरु नानक जयंती के कार्यक्रम में गए थे, जहां उनका स्वागत किया था। इससे नाराज होकर मशहूर कीर्तनकार मनप्रीत सिंह कानपुरी ने सिख विरोधी दंगों का हवाला देते हुए आयोजकों पर निशाना साधा था और कभी इंदौर नहीं आने की बात कही थी। कमलनाथ के कार्यक्रम से जाने के बाद मंच से उनके खिलाफ नारे भी लगे थे। कमलनाथ के स्वागत का विवाद गहराने के बाद भाजपा ने भी इस पर राजनीति शुरू कर दी थी। तय कार्यक्रम के अनुसार राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा के दौरान इंदौर में खालसा स्टेडियम में रुकने वाले है, लेकिन विवाद के बाद इस पर संशय बना हुआ है। वहीं, यात्रा को मिली धमकी भरे पत्र को पुलिस कमलनाथ विवाद से भी जोड़कर देख रही है, क्योंकि उसमें सिख विरोधी दंगों का जिक्र है।

विवाद के बाद कमलनाथ ने एक पदाधिकारी को हटा दिया

गुरु नानक जयंती के कार्यक्रम में कमलनाथ के शामिल होने का विरोध करने वाले कीर्तनकार मनप्रीत ने मंच से ही कह दिया था कि मैं प्रण लेता हूं कि आज के बाद कभी इंदौर नहीं आऊंगा। उन्होंने कीर्तन करने से भी इनकार कर दिया। कीर्तनकार ने गुरुसिंघ सभा के एक पदाधिकारी पर भी नाराजगी जताते हुए कहा था कि इस कार्यक्रम को भी राजनीति से जोड़ दिया गया। बताते हैं कि कमलनाथ भी इस घटनाक्रम से नाराज हैं और उन्होंने कांग्रेस के एक पदाधिकारी की छुट्टी भी कर दी।

धमकी वाले पत्र में किया गया है 1984 के दंगों का जिक्र

उल्लेखनीय है कि भारत जोड़ो यात्रा के दौरान बम धमाके की धमकी के पत्र में 1984 में हुए सिख दंगों का जिक्र करते हुए लिखा गया है कि नवंबर के अंतिम सप्ताह में इंदौर धमाकों से दहल उठेगा। जगह-जगह बम विस्फोट होंगे। राहुल गांधी की यात्रा के दौरान कमलनाथ को भी गोली मार दी जाएगी। पत्र में एक महिला और पुरुष के चित्र हैं और ज्ञान सिंह का नाम लिखकर 10 अंकों में नंबर भी लिखे गए हैं। दूसरे पेज पर भी दो मोबाइल नंबर लिखे गए है। इसके अलावा किसी अमनदीप सिंह के मतदाता परिचय पत्र की फोटोकापी भी पत्र के साथ रखी गई है। अब पुलिस इन नंबर की जांच कर रही है। पत्र के लिफाफे पर रतलाम विधायक चेतन कश्यप का पता लिखा गया है।

Related Articles

Back to top button