नई दिल्ली

सीएम नीतीश कुमार को स्पीकर विजय सिन्हा चुनौती देंगे, इस्तीफा नहीं, बोले- विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव का होगा प्रतिकार …

पटना। बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय  कुमार सिन्हा ने ऐलान किया कि वह इस्तीफा नहीं देंगे। महागठबंधन की ओर से लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को नियम के विरुद्ध करार दिया। बुधवार को सरकार के विश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग के बाद विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान होना था।

गौरतलब है कि नई सरकार को विश्वास मत हासिल करने के लिए 24 अगस्त को विधानसभा की बैठक सुबह 11 बजे से बुलाई गई है। इस एक दिवसीय सत्र की कार्ययोजना मौजूदा अध्यक्ष को ही बनानी है। विधानसभा में दो ही कार्य किये जाने हैं। पहला सरकार का बहुमत हासिल करना और दूसरा अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान।

सत्तापक्ष चूंकि अध्यक्ष के खिलाफ नो कंफिडेंस मोशन नोटिस दे चुका है, इसलिए वह सभा का संचालन अध्यक्ष की जगह उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी से कराना चाहेगा। पर इसे दूसरे नम्बर पर लिए जाने की स्थिति में सरकार के विश्वास मत हासिल करने की प्रक्रिया का संचालन विजय सिन्हा ही करेंगे (यदि इसके पूर्व उन्होंने इस्तीफा नहीं किया तो)।

बता दें कि बिहार विधानसभा के कार्यसंचालन नियमावली में अध्यक्ष को हटाने या नये अध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया निर्धारित है। खासबात यह है कि बिहार के राज्यपाल द्वारा अध्यक्ष के निर्वाचन की तिथि निर्धारित होनी है। चूंकि तकनीकी रूप से विस के अध्यक्ष का पद अभी रिक्त नहीं है और न ही ऐसी कोई सूचना विस की ओर से महामहिम को दी गई है, इसलिए फिलहाल राज्यपाल ने 25 अगस्त को विप के सभापति निर्वाचन की ही तिथि मुकर्रर की है।

जहां तक विधानसभा अध्यक्ष के निर्वाचन की बात है तो रिक्ति की सूचना मिलने के बाद उनके द्वारा तिथि निर्धारित होगी। निर्वाचन की तिथि के एक दिन पूर्व 12 बजे दिन तक ही अध्यक्ष बनने को इच्छुक सदस्य विस सचिव के पास नामांकन दर्ज करेंगे।

Related Articles

Back to top button