मध्य प्रदेश

मिर्ची बाबा से जेल में वकील को छोड़ अब तक कोई मिलने नहीं आया, उदासी और अकेलेपन में समय काट रहा तांत्रिक मिर्ची बाबा ..

भोपाल। दुष्कर्म के मामले में सेंट्रल जेल में बंद वैराग्यानंद गिरि उर्फ मिर्ची बाबा को फिलहाल जेल की सलाखों के पीछे ही रहना होगा। अदालत ने बाबा को जमानत का लाभ नहीं दिया। बाबा को पुन: 15 दिन के लिए जेल में ही रखने का आदेश दिया। इससे बाबा मायूस हो गया।

रायसेन की एक महिला के साथ रेप के आरोप में बंद मिर्ची बाबा की न्यायिक हिरासत की अवधि पूरी होने पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जिला कोर्ट में पेशी हुई थी। 9 अगस्त से जेल में बंद बाबा से मिलने अभी तक कोई सगा-संबंधी जेल नहीं पहुंचा। अलबत्ता मंगलवार को एक वकील ने जेल में बाबा से जरूर भेंट की।

अपने राजनीतिक रसूख के चलते चेले-चपाटियों से घिरा रहने वाला मिर्ची बाबा सेंट्रल जेल में उदासी और अकेलेपन में समय काट रहा है। बाबा को 9 अगस्त को 22 अगस्त तक के लिए जेल भेजा गया था। मंगलवार को उनकी जमानत कराने के सिलसिले में एक वकील जेल पहुंचा था। इसके पहले कोई भी व्यक्ति जेल में बाबा से मिलने नहीं गया।

इधर, मिर्ची बाबा के खास चेले गोपाल और नौकरानी की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। दोनों बाबा के खिलाफ केस दर्ज होने के बाद से ही फरार हैं। मिनाल रेसीडेंसी में किराए के मकान में रहने वाले मिर्ची बाबा के खिलाफ 8 अगस्त को महिला थाने में रायसेन की एक महिला की शिकायत पर दुष्कर्म का केस दर्ज किया गया था।

पुलिस ने उसे 9 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस ने बाबा का मोबाइल फोन, लैपटाप, मकान में लगे सीसीटीवी का डीवीआर, कपड़े आदि जब्त किए हैं। इनमें से इलेक्ट्रोनिक उपकरणों को जांच के लिए भेजा है।

Related Articles

Back to top button